Latest News
Home > Archived > भीषण जलप्रलय के बाद केदारनाथ-बदरीनाथ धाम की यात्रा आज से शुरू, पहला जत्‍था रवाना

भीषण जलप्रलय के बाद केदारनाथ-बदरीनाथ धाम की यात्रा आज से शुरू, पहला जत्‍था रवाना

भीषण जलप्रलय के बाद केदारनाथ-बदरीनाथ धाम की यात्रा आज से शुरू, पहला जत्‍था रवाना
X

देहरादून | जून की आपदा के बाद से रुकी केदारनाथ धाम की औपचारिक यात्रा आज से शुरू हो गई। केंद्रीय मंत्री हरीश रावत ने सुबह साढ़े दस बजे भगवान केदार के दर्शन किए। इसके साथ ही सुबह लगभग सात बजे गौरीकुंड से यात्रियों का पहला जत्‍था रवाना हो गया। इस जत्‍थे में 18 लोग शामिल हैं। दावा किया गया है कि इस यात्रा के लिए प्रशासन ने श्रद्धालुओं के लिए पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए हैं।
हालांकि खराब रास्ते के साथ मौसम भी यात्रियों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। चमोली और रुद्रप्रयाग में रुक-रुक कर हो रही बारिश से ठंड काफी बढ़ गई है। शुक्रवार को भी केदारनाथ धाम में शाम से ही घना कोहरा छा गया। इस दौरान हल्की बूंदाबांदी भी होती रही। प्रशासन ने मेडिकल चेकअप के बाद ही स्वस्थ लोगों को गुप्तकाशी में रजिस्ट्रेशन करवाकर केदारनाथ जाने की इजाजत दी है।
शनिवार की यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन शुक्रवार से ही जारी है। सुबह 8.30 बजे यात्रियों के पहले जत्थे को रवाना कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि इन यात्रियों में अधिकांश वे हैं जिनके परिजन जून की आपदा के बाद लापता हैं। जत्थे के साथ पुलिस टीम भी मौजूद रहेगी।
सुरक्षा के लिहाज से प्रतिदिन मात्र 50 छोटे वाहनों को ही धाम जाने की अनुमति दी गई है। मार्ग की तंग हालत को देखते हुए प्रशासन ने लैंड स्लाइड जोन के पास पुलिस बल तैनात किया है। मौसम खराब होने की दशा में सुरक्षा की दृष्टि से यातायात तुरंत रोक दिया जाएगा। यात्रा काल के दौरान मार्ग की स्थिति देखते हुए लामबगड़ से आगे जाने वाले वाहनों की क्षमता की जांच की जाएगी। सुरक्षित और छोटे वाहनों को ही आवाजाही की अनुमति दी जाएगी।

Updated : 2013-10-05T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top