Latest News
Home > Archived > भाजपा से समझौते का सवाल ही नहीं: राजवीर सिंह

भाजपा से समझौते का सवाल ही नहीं: राजवीर सिंह

भाजपा से समझौते का सवाल ही नहीं: राजवीर सिंह
X


$img_titleअलीगढ़।
पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को भाजपा में लाने की कसरतों के बीच पहली बार मंगलवार को जनक्रांति पार्टी [राष्ट्रवादी] के अध्यक्ष रा
जवीर सिंह उर्फ राजू भैया ने चुप्पी तोड़ी। कहा, बाबूजी [कल्याण सिंह] या मेरे स्तर से भाजपा में जाने या गठजोड़ करने की कोई पहल नहीं हुई है।


उन्होंने कहा कि भाजपा में क्या चल रहा है, यह भाजपा जाने। अब उनके भाजपा में लौटने का कोई सवाल नहीं है। ऐसी चर्चाएं एकदम निराधार हैं और सियासी नुकसान करने वाली भी। हमने जेकेपी को बड़ी मेहनत के साथ खड़ा किया है। उसका भाजपा में विलय करने का कतई प्रश्न नहीं है। न हमने लोकसभा चुनाव-2014 के लिए भाजपा से 12 सीटें मांगी हैं और न ही भाजपा में कोई पद।'

उन्होंने कहा कि भाजपा के साथ किसी भी स्तर पर 'सौदेबाजी' नहीं चल रही। जेकेपी के स्तर से ऐसी कोई कोशिश नहीं हो रही और न ही भाजपा या संघ के नेता ही उनके संपर्क में हैं। जनक्रांति पार्टी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। कार्यकर्ताओं से जुट जाने को कहा है। मजबूत टीम तैयार कर रहे हैं। निकाय चुनाव लड़ाने पर भी विचार हो रहा है। मजबूत प्रत्याशी मिलेंगे तो उन्हें भी दमदार तरीके से लड़ाएंगे। राजू भैया ने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा से तालमेल करने या पार्टी के विलय की कतई संभावना नहीं है। हम अपने बूते पर मैदान में उतरेंगे।

Updated : 2012-05-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top