Home > Archived > दिल्ली में धारा 144 लागू, सात मेट्रो स्टेशन भी बंद

दिल्ली में धारा 144 लागू, सात मेट्रो स्टेशन भी बंद

दिल्ली में धारा 144 लागू, सात मेट्रो स्टेशन भी बंद
X

नई दिल्ली | गैंगरेप के खिलाफ हो रहे जबरदस्त विरोध प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली में आज खासी चौकसी बरती जा रही है। जंतर-मंतर समेत पूरी नई दिल्ली में धारा 144 लगा दी गई है। इंडिया गेट और उसके आस-पास के इलाके में प्रदर्शन के लिए पहुंचे लोगों को बसों में भरकर दूर के इलाकों में छोड़ा जा रहा है। कुछ देर पहल ही प्रशासन ने जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने के लिए इजाजत दी थी पर अब इस फैसले को बदल दिया गया है। इसके अलावा इन सभी जगहो पर भारी तादाद में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है। इसी दौरान शनिवार को इंडिया गेट पर हजारों लोगों के विरोध प्रदर्शन के बाद दिल्ली पुलिस ने सात नजदीकी मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया है। इंडिया गेट के आस पास सभी महत्वपूर्ण सड़कों पर भी नाकेबंदी कर दी गई है। बाराखम्भा, मंडी हाऊस, खान मार्केट, पटेल चौक, सेंट्रल सेक्रेटेरिएट, उद्योग भवन और रेस कोर्स मेट्रो स्टेशनों पर प्रात: छह बजे से प्रवेश और निकास यात्रियों के लिए बंद कर दिया गया था। जबकि प्रगति मैदान को दिल्ली पुलिस के निर्देश पर प्रात: नौ बजे बंद कर दिया गया। रविवार होने के कारण मेट्रो में यात्रियों की संख्या काफी कम थी, लेकिन जिन लोगों ने भी सुबह की यात्रा के लिए मेट्रो को चुना उन्हें काफी समस्याएं हुईं। स्टेशनों को बंद करने की घोषणा कल देर रात होने के कारण यात्रियों को कुछ पता नहीं था। दिल्ली मेट्रो ने यह निर्णय दिल्ली पुलिस के निर्देश पर लिया है। सातों स्टेशन अगले आदेश तक बंद रहेंगे। दिल्ली मेट्रो अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली पुलिस की ओर से अगले आदेश मिलने तक स्टेशन बंद रहेंगे। इंडिया गेट तक जाने वाले चारों स्टेशन बंद हैं, हालांकि केन्द्रीय सचिवालय पर ट्रेन बदलने की अनुमति होगी। यह निर्णय रायसीना हिल में कल हुए प्रदर्शनों के कारण किया गया है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जानकारी दी है कि विरोध प्रदर्शन को देखते हुए राष्ट्रपति भवन और इंडिया गेट के आस पास की सभी सड़कों को पुलिस ने बंद कर रखा है। साथ ही संसद मार्ग, राजपथ, विजय चौक, रफी मार्ग, जनपथ, मानसिंह रोड पर भी नाकेबंदी की गई है। राष्ट्र की सर्वोच्च सत्ता माने जाने वाले रायसीना हिल्स पर शनिवार को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने २३ वर्षीया दुष्कर्म पीड़िता के लिए न्याय की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन किया था।



Updated : 2012-12-23T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top