Latest News
Home > Archived > भारतीय वायुसेना खरीदेगी 12 हेलीकॉप्टर

भारतीय वायुसेना खरीदेगी 12 हेलीकॉप्टर

नई दिल्ली| सियाचिन ग्लेशियर में तैनात सैनिक बेहतर संसाधनों की उम्मीद कर सकते हैं क्योंकि भारतीय वायुसेना वहां तैनाती के लिए 13 नए हल्के हेलीकॉप्टर खरीदने पर विचार कर रही है। भारतीय वायुसेना के अधिकारियों ने बताया कि वायुसेना ने 12 चीतल हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को आग्रह प्रस्ताव भेजा है। इन हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल उत्तरी सीमाओं पर अत्यधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में अभियानों के लिए किया जाएगा। चीतल हेलीकॉप्टर चीता हेलीकॉप्टरों का उन्नत रूप हैं, जिनमें हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा निर्मित अधिक शक्तिशाली इंजन लगे हैं। अधिकारियों ने बताया कि वायुसेना के पास लेह और जम्मू-कश्मीर के थोइसे में तैनात चीता और चेतक हेलीकॉप्टरों की अपनी कुछ स्क्वाड्रन हैं। ये हेलीकॉप्टर दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धस्थल पर तैनात सेना के जवानों को हवाई रसद मुहैया कराते हैं। उन्होंने कहा कि चीतल हेलीकॉप्टर इसलिए खरीदे जा रहे हैं क्योंकि नए लाइट यूटिलिटी हेलीकॉप्टर (एलयूएच) हासिल करने में विलम्ब हो रहा है। यह विलम्ब हाल में खरीद प्रक्रियाओं को रदद किए जाने की वजह से हुआ है। एलयूएच के बेड़े को वायुसेना और थलसेना के चीता और चेतक हेलीकॉप्टर बेड़े की जगह तैनात किया जाना था। रक्षा मंत्रालय 197 एलयूएच खरीद रहा है। इनमें से 133 थलसेना को दिए जाएंगे, जबकि शेष वायुसेना को मिलेंगे। नौसेना ने भी 56 हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए निविदा जारी की है, जो इसके विंटेज हेलीकॉटरों चीता और चेतक की जगह लेंगे। आधुनिकीकरण की प्रक्रिया से गुजर रहे भारतीय सशस्त्र बलों ने अगले पांच से 10 साल में विभिन्न जरूरतों के लिए एक हजार से अधिक हेलीकॉप्टर खरीदने का फैसला किया है।


Updated : 2012-10-14T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top