Home > Lead Story > राहुल गांधी व शरद पवार को सिर्फ चुनाव में ही याद आते हैं किसान : अमित शाह

राहुल गांधी व शरद पवार को सिर्फ चुनाव में ही याद आते हैं किसान : अमित शाह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिवाजी महाराज की नीतियों का पालन करने वाले राजनेता देश को अगर सुरक्षित रखना है तो प्रधानमंत्री मोदी को फिर से जिताकर दिल्ली भेजें

राहुल गांधी व शरद पवार को सिर्फ चुनाव में ही याद आते हैं किसान : अमित शाह

मुंबई। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कहा कि राहुल गांधी व शरद पवार को सिर्फ चुनाव में किसान याद आते हैं। कांग्रेस पार्टी ने अपने शासनकाल में अगर सिंचन योजनाओं पर काम सही तरीके से किया होता तो किसानों की स्थिति इस तरह बदतर नहीं होती। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिवाजी महाराज की नीतियों का पालन करने वाले राजनेता हैं। जनता से साफ तौर पर कहा कि भारत देश को अगर सुरक्षित रखना है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिर से भारी मतों से विजयी बनाएं।

सांगली में जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस कार्यकाल में हुए सिंचन घोटाले की ओर संकेत दिया और कहा कि उस समय 72 हजार करोड़ रुपये सिंचन योजनाओं के लिए खर्च किए गए थे। यह पैसा कहां गया, इसे सभी लोग जानते हैं। अमित शाह ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले 5 वर्षों में जलयुक्त शिवार योजना की वजह से 12 हजार गांवों में किसानों की खेतों में पानी पहुँच सका है। उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाओं की वजह से सांगली जिले के 11 लाख किसानों को लाभ मिल सका है। अगर कहीं प्रशासनिक गड़बडी रह गई होगी तो उसे दूर कर लिया जाएगा।

अमित शाह ने कहा कि महाराष्ट्र कांग्रेस-राकांपा गठबंधन की सरकार के कार्यकाल में 15 वर्षों तक हर क्षेत्र में राज्य पिछड़ा हुआ रहा। लेकिन भाजपा के शासनकाल में 5 वर्षों तक दिन-रात मेहनत किया गया है और हर क्षेत्र में काम हाका है जिससे राज्य को नई संजीवनी मिल सकी है। उन्होंने कहा कि देश की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काम से खुश है, इसलिए भाजपा को बहुमत मिल रहा है। उन्होंने सांगली की जनता से भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की और कहा कि देश की सुरक्षा, विकास के लिए एक बार फिर दिल्ली की कुर्सी पर नरेंद्र मोदी की सरकार का होना जरूरी है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 9575 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top