Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > हावड़ा में तैनात आईपीएस अधिकारी के माता-पिता, बहन समेत पांच लोगों की हादसे में मौत

हावड़ा में तैनात आईपीएस अधिकारी के माता-पिता, बहन समेत पांच लोगों की हादसे में मौत

देर रात एमपी से कानपुर आए साथी अण्डरट्रेनी आईपीएस ने की मृतकों की पहचान

हावड़ा में तैनात आईपीएस अधिकारी के माता-पिता, बहन समेत पांच लोगों की हादसे में मौत
X

कानपुर। उत्तरप्रदेश के कानपुर जनपद में एक दर्दनाक हादसे में पश्चिम बंगाल में तैनात आईपीएस अधिकारी आदित्य आनंद के माता-पिता, बहन,साला व चालक समेत पांच लोगों की मौत हो गई। घाटमपुर कोतवाली इलाके में हुई घटना के बाद पुलिस ने घंटों की मशक्कत के बाद शवों को निकाला। एक टूटे मोबाइल से निकाले सिम से मृतकों की शिनाख्त की जा सकी। आईपीएस अधिकारी ने अपने एमपी में तैनात साथी अण्डरट्रेनी आईपीएस आदित्य लांघे को भेजा और खुद कानपुर के लिये रवाना हो गए हैं| पुलिस ने सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कार्यवाही शुरू कर दी है।

कानपुर सागर मार्ग के घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र के बीरपुर गांव के पास जाम में कार में पीछे से आए तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी। टक्कर के चलते कार आगे चल रहे ट्रक में जा घुसी। हादसा इतना भीषण था कि कार के परखच्चे उड़ गए और उसमें सवार पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। दो ट्रकों के बीच फंसकर कार सवारों की मौत की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी। मौके पर पुलिस उपाधीक्षक घाटमपुर थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और घंटों की जद्दोजहद के बाद क्रेन की मदद से ट्रक को हटाने के बाद पुलिस कर्मियों ने कार को गैस कटर मशीन से काटकर शवों को निकाला। मृतकों की शिनाख्त कार में मिले टूटे मोबाइल से सिम निकालकर की जा सकी। पुलिस ने सिम को दूसरे मोबाइल में डाला और फिर उनकी शिनाख्त पश्चिम बंगाल के हावड़ा में तैनात आईपीएस आदित्य आनंद के रूप में हुई। घटना की जानकारी पर उन्होंने मध्यप्रदेश में तैनात साथी अण्डरट्रेनी आईपीएस आदित्य लांघे को मौके पर भेजा और खुद कानपुर आने के लिए रवाना हो गए।

पुलिस के मुताबिक मृतकों में आईपीएस अधिकारी की मां रजनी रजक, पिता दिनेश रजक, बहन अंकित, साला राम स्वरूप व चालक देवेंद्र अहिरवार शामिल हैं। सभी मध्यप्रदेश के छतरपुर के रहने वाले हैं और कार से सागर मार्ग से कानपुर की ओर आ रहे थे, तभी यह हादसा हुआ। घटना के बाद ट्रक चालक क्लीनर को लेकर भाग निकला है और पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर उसकी तलाश शुरू कर दी है। आईपीएस के कई रिश्तेदार कानपुर पहुंच चुके हैं| सिर्फ हावड़ा से आ रहे आईपीएस अधिकारी आदित्य आनंद के आने का इन्तजार हो रहा है।

Updated : 19 Feb 2019 6:35 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top