Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > उप्र में चाइल्ड पोर्नोग्राफी शेयर करने पर सरकार सख्त

उप्र में चाइल्ड पोर्नोग्राफी शेयर करने पर सरकार सख्त

उप्र में चाइल्ड पोर्नोग्राफी शेयर करने पर सरकार सख्त
X

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में चाइल्ड पोर्नोग्राफी शेयर करने पर व्हाट्सएप्प, फेसबुक ने बड़ी कार्रवाई की है। ऐसे 80 से ज्यादा खातों को स्थायी तौर पर बंद कर दिया गया है। ये यूजर्स अब रजिस्टर्ड नंबर से फिर कभी व्हाट्सएप्प और फेसबुक नहीं चला पाएंगे। पिछले दिनों मेरठ में लालकुर्ती क्षेत्र निवासी एक शख्स के फेसबुक मैसेंजर पर 24 सेकेंड की चाइल्ड पोर्नोग्राफी का वीडियो आया। उसने इस वीडियो को मैसेंजर में फॉरवर्ड कर दिया। इस तरह वीडियो के वायरल होने का दायरा बढ़ता गया। इस पर फेसबुक ने कार्रवाई करते हुए चाइल्ड पोर्नोग्राफी शेयर करने वाली सभी आईडी स्थायी तौर पर निष्क्रिय कर दीं।

इसके साथ ही इनके व्हाट्सएप्प पर उस वक्त रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर को भी प्रतिबंधित कर दिया। मेरठ में ऐसे खातों की संख्या करीब 80 है। यह वीडियो कहां से आया, इसका पता नहीं चल सका। माना जा रहा है कि जहां से इस वीडियो के वायरल होने की शुरुआत हुई, वहां से अब तक सैकड़ों की संख्या में खाते बंद हुए होंगे। यह भी माना जा रहा है कि फेसबुक और व्हाट्सएप्पने इस वीडियो को स्वत: संज्ञान लिया, जिसके बाद यह कार्रवाई हुई है।

लालकुर्ती क्षेत्र के युवक ने पिछले हफ्ते साइबर क्राइम सेल में शिकायत दर्ज कराई कि एक अश्लील वीडियो आने के बाद उसका फेसबुक और व्हाट्सएप्प अकाउंट स्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। शुरुआत में माना गया कि यह फ्रॉड से जुड़ा मामला है। साइबर सेल ने जांच कराई तो पता चला कि चाइल्ड पोर्नोग्राफी वायरल करने पर व्हाट्सएप और फेसबुक ने यह कार्रवाई की है।

हरिद्वार में चाइल्ड पोर्नोग्राफी का पहला और प्रदेश में दूसरा मुकदमा मंगलवार को नगर कोतवाली में दर्ज किया गया। यह मुकदमा फेसबुक यूजर के अलावा रानीगली भूपतवाला निवासी एक युवक के खिलाफ दर्ज किया गया है। आरोप है कि फेसबुक पर बच्चे, पुरुष और महिला की अश्लील तस्वीरें अपलोड की गईं। पुलिस के अनुसार पांच जून वर्ष 2019 की दोपहर को अखिल राठौर नाम की फेसबुक आईडी से बच्चे, महिला और पुरुष की अश्लील तस्वीरें पोस्ट की गई थीं। इस पोस्ट को कई लोगों ने शेयर भी किया था। पुलिस ने मामले में अखिल राठौर और सूर्यकांत शर्मा के खिलाफ केस दर्ज किया।

Updated : 5 Feb 2020 5:22 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top