Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > जिलाधिकारी ने किया स्कूल का निरीक्षण, छात्र नहीं बता पाए, प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति का नाम

जिलाधिकारी ने किया स्कूल का निरीक्षण, छात्र नहीं बता पाए, प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति का नाम

खराब शिक्षा गुणवत्ता पर स्टाफ को दी चेतावनी

जिलाधिकारी ने किया स्कूल का निरीक्षण, छात्र नहीं बता पाए, प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति का नाम
X

बांदा। जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने प्राथमिक विद्यालय, तुर्रा द्वितीय, क्षेत्र नरैनी का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय, शिक्षामित्र राजरानी अनुपस्थित पाई गई। जिलाधिकारी ने शिक्षा मित्र का अनुपस्थिति के सम्बन्ध में स्पष्टीकरण मांगा। इनका एक दिवस का मानदेय भी रोकने के निर्देश दिए हैं।

प्राथमिक विद्यालय, तुर्रा द्वितीय के निरीक्षण के जिलाधिकारी द्वारा छात्र-छात्राओं के उपस्थिति पंजिका का अवलोकन किया गया। कक्षा-1 में 33 बच्चो के सापेक्ष 21, कक्षा-2 में 32 बच्चो के सापेक्ष 13, कक्षा-3 में 52 बच्चों के सापेक्ष 37 बच्चें, कक्षा-4 में 31 बच्चों के सापेक्ष 20 बच्चें एवं कक्षा-5 में 49 बच्चों के सापेक्ष 27 बच्चें इस प्रकार विद्यालय में कुल 197 बच्चो के सापेक्ष 118 बच्चे उपस्थित पाए गये। प्राथमिक विद्यालय, तुर्रा द्वितीय में जिलाधिकारी द्वारा कक्षा-5 के बच्चों को लगभग एक घण्टा पढ़ाया गया। कक्षा-5 के छात्र शिवशंकर, कु0 काजल, कु0 अनीता, कु0 प्रिया एवं कु0 गीता से पहाड़ा सुना गया। काजल द्वारा 16 का पहाड़ा नही सुना पायी। इसके साथ ही कक्षा-5 के बच्चो से हिन्दी मे ''शाम को जल्द नींद आती है'' लिखवाया गया, परन्तु छात्र शिवशंकर को छोड़कर कोई भी बच्चे शुद्व हिंदी नही लिख सके

इसके अतिरिक्त बच्चों से सामान्य जानकारी यथा प्रदेश के मुख्यमंत्री, राष्ट्रपति आदि का नाम पूंछा गया परन्तु बच्चो को इस संबन्ध मे कोई जानकारी नही थी। जिलाधिकारी द्वारा विद्यालय की पठन-पाठन की स्थिति खराब पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये मौके पर उपस्थित अध्यापकगणों को निर्देशित किया गया कि 01 माह के अन्दर बच्चों को मानक के अनुसार पठन-पाठन की गुणवत्ता में सुधार लाया जाये। अन्यथा कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

Updated : 2022-08-06T23:01:42+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top