Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > अविश्वास प्रस्ताव लाकर कांग्रेस स्वयं की जाल में फंसी : मुख्यमंत्री योगी

अविश्वास प्रस्ताव लाकर कांग्रेस स्वयं की जाल में फंसी : मुख्यमंत्री योगी

अविश्वास प्रस्ताव लाकर कांग्रेस स्वयं की जाल में फंसी : मुख्यमंत्री योगी
X

एटा। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि अविश्वास प्रस्ताव लाकर कांग्रेस स्वयं अपने ही जाल में फंस चारों खाने चित्त हुई है। कांग्रेस का किसी भी मुद्दे पर कोई स्टैंड ही नहीं था। वास्तव में अविश्वास प्रस्ताव के माध्यम से कांग्रेस का नकारात्मक चेहरा ही सामने आया है। यह बात मुख्यमंत्री ने सोमवार को हाथरस प्रस्थान से पूर्व मीडिया को संबोधित करते हुए कही।

मीडिया द्वारा देवरिया में बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों पर इस्लामिया आदर्श प्राथमिक विद्यालय लिखाए जाने का प्रश्न उठाए जाने पर मुख्यमंत्री का कहना था कि किसी की भी इस प्रकार की शरारत को स्वीकार नहीं किया जाएगा। प्राथमिक विद्यालय बेसिक शिक्षा विभाग के हैं, उन्हीं के रहेंगे, किसी जाति, या मजहब के रूप में नहीं। उनकी पहचान नष्ट नहीं होने दी जाएगी। मामले की एसआईटी से जांच कराई जा रही है।

इसी प्रकार शिक्षकों की फर्जी नियुक्ति के मामले में उनका कहना था कि सरकार ने एटा सहित 60 जिलों की जांच एसआईटी को सौंपी है। पिछली सरकारों में जो भी फर्जी नियुक्तियां हुई हैं, उन सबकी जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी।

इसके पूर्व प्रेस को दिए अपने संबोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने 15 घंटे के जनपद प्रवास के अनुभव साझा करते हुए कहा कि एटा आकर उन्हें महसूस हुआ कि 1854 में बना यह जिला अब तक व्यापक उपेक्षा का शिकार रहा है। यहां विकास की छटपटाहट है। पिछली सरकारों ने बायदे भले ही किये हों, धरातल पर कुछ नहीं किया।

मुख्यमंत्री ने सोमवार को एक बार फिर एटा में बनने वाले मेडीकल कालेज का जिक्र करते हुए कहा कि केन्द्र के सहयोग से एटा को पहला राजकीय मेडीकल कालेज मिलने जा रहा है।

इसी प्रकार तीर्थ नगरी सोरों के विकास के बारे में मुख्यमंत्री का कहना था कि प्रसिद्ध पौराणिक स्थल सोरों के विकास के बारे में, उसे पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने के बारे में वर्षो से चली आ रही मांग को प्रदेश सरकार ने स्वीकार किया है। वे इसका पर्यटन के बेहतर केन्द्र के रूप में विकास कराएंगे।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर बताया कि विगत 16 महीनों में बहुत सारे क्षेत्रों में पर्यटन की अपार संभावनाएं देखते हुए विकास की बहुत सारी योजनाएं बनाई गयी हैं। चाहे वह अयोध्या का विकास हो, वहां नगर निगम की बात हो, चाहे मथुरा-वृंदावन को नगर निगम के रूप में वहां की संस्कृति के संरक्षण सहित विकसित करने की बात हो, चाहे प्रधानमंत्री के सांसद बनने के बाद काशी के विकास की नयी शुरूआत हो चाहे चित्रकूट व नैमिषारण्य के विकास की बात हो। प्रदेश सरकार इसी प्रकार सोरों को भी तीर्थस्थल के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया है।

इस अवसर पर पूर्व की सपा सरकार से अपनी सरकार की तुलना करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना था कि पिछली सरकार ने अपने कार्यकाल में प्रधानमंत्री आवास योजना में मात्र 63 हजार आवास बनवाए थे हमारी सरकार ने 8.85 लाख आवास बनवाए हैं।

आपके एटा जनपद में पिछली सपा सरकार ने एक भी आवास नहीं बनवाया जबकि हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 5494 ग्रामीण व 748 शहरी आवास बनवाए हैं। इसी प्रकार ऋणमोचन योजना में एटा के 53088 किसानों के 349.28 करोड़ की धनराशि के ऋण माफ किये गये हैं।

पिछली सरकार के स्वच्छता मिशन में बनवाए गये 12839 ग्रामीण व 781 शहरी शौचालयों के विपरीत भारतीय जनता पार्टी की सरकार में 111644 ग्रामीण व 3368 शहरी शौचालय बनाए गये हैं। इसी प्रकार 459 जोड़ों के सामूहिक विवाह, 588 जोड़ों को शादी अनुदान, 30077 परिवारों को उजाला योजना के अंतर्गत एलईडी बल्ब, 16518 परिवारों को सौभाग्य योजना का लाभ, 25996 परिवारों को उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्शन, 556 मजरों में ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के अंतर्गत विद्युत पहुंचाई गयी है।

एटा में 100 नये आंगनवाड़ी केन्द्रों का निर्माण कराने के अलावा 14894 निराश्रित महिलाओं को पेंशन, 10625 दिव्यांगों को पेंशन, 24696 वृद्धों को पेंशन दी गयी है। प्रधानमंत्री जनधन योजना में 161441 खाते खोले गये हैं। 25271 लोगों का 2 लाख का सुरक्षा बीमा कराया गया है, 16717 परिवारों को जीवन ज्योति योजना का लाभ दिया गया है। इसी प्रकार अटल पेंशन योजना में भी अच्छा काम हुआ है।

जिले के जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई की इनके नेतृत्व व मार्गदर्शन में जिला और भी विकास करेगा।

Updated : 2018-07-23T17:12:57+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top