Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > भाजपा से टिकट कटा तो श्यामाचरण बांदा लोकसभा से हो सकते हैं सपा प्रत्याशी !

भाजपा से टिकट कटा तो श्यामाचरण बांदा लोकसभा से हो सकते हैं सपा प्रत्याशी !

भाजपा से टिकट कटा तो श्यामाचरण बांदा लोकसभा से हो सकते हैं सपा प्रत्याशी !
X

बांदा। बड़े उद्योगपतियों में शुमार प्रयागराज से भाजपा के सांसद श्यामा चरण इस बार चित्रकूट-बांदा संसदीय सीट से सपा के प्रत्याशी हो सकते हैं। भारतीय जनता पार्टी से अपना टिकट कटने की प्रबल संभावना के चलते उन्होंने सपा से टिकट हथियाने के लिए जोड़-तोड़ शुरू कर दी है। वैसे सपा के टिकट पर वह पहले भी बांदा संसदीय सीट से सांसद रह चुके हैं।

सूत्रों की माने तो यूपी में जिन सांसदों का टिकट कटने की चर्चा है, उनमें बुन्देलखण्ड के जनपद चित्रकूट निवासी व प्रयागराज के सांसद श्यामाचरण गुप्ता का नाम भी शामिल है। इसलिए वह अपना नया ठिकाना तलाशने को लेकर चर्चा में है और पार्टी के खेमे में हलचल है। श्यामा चरण के साथ जिले ही नहीं बल्कि आस-पास के अग्रहरी समाज के साथ व्यापारी वर्ग का बड़ा कुनबा जुड़ा है। बीते कुछ दिनों से श्यामा चरण बड़े मंचों से भाजपा की किरकिरी करा चुके हैं।

पार्टी में श्यामा चरण बनाम स्थानीय नेताओं की लड़ाई जग जाहिर है जिसमें डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या और कैबिनेट मंत्री नन्द गोपाल नंदी हमेशा उनके निशाने पर रहते हैं।कभी संजय मंच से अपना राजनीतिक सफर शुरू करने वाले श्यामा चरण समय-समय पर कई राजनीतिक पार्टियों के साथ अपना चुनावी क्षेत्र भी बदल चुके हैं। उन्होंने सफलता हासिल कर विरोधियों को पटखनी भी दी है। प्रदेश के बड़े उद्योगपतियों में शुमार श्यामा चरण, श्याम ग्रुप ऑफ कम्पनीज के मालिक हैं जिसके अंतर्गत उनके कई कारोबार चलते हैं। उनका सबसे प्रमुख बीड़ी उद्योग है इसलिए उन्हें बीड़ी किंग भी कहा जाता है। श्यामा चरण गुप्ता ने बीते दिनों एक समारोह में कहा था कि वैश्य समाज के लोगों के साथ सरकार अन्याय कर रही है। सरकार इस समाज के लोगों को अपना बंधुवा मजदूर समझती है। वह नोट बंदी से लेकर बीड़ी की रोक पर भी अपनी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर चुके हैं।राजनीतिक हलकों में चर्चा है कि श्यामा चरण के एक बार फिर जल्द ही सपा में शामिल होने और बांदा सीट से प्रत्याशी होने की घोषणा हो सकती है। वे सपा के बड़े नेताओं के सम्पर्क में रहकर बांदा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। श्यामा चरण की सपा में मजबूत पैठ मानी जाती है। श्यामा चरण गुप्ता 1989 में भाजपा के टिकट से इलाहाबाद के मेयर चुने गये। 1991 में इलाहाबाद से लोकसभा का चुनाव लड़े लेकिन हार गये। इसके बाद उन्होंने पार्टी बदली और 2004 में सपा के टिकट से बांदा से सांसद चुने गये। 2009 की लोकसभा में फूलपुर से प्रत्याशी रहे श्यामा चरण को हार मिली। श्यामा चरण ने एक बार फिर भाजपा का दामन थामा और मोदी लहर में 2014 में इलाहाबाद से सांसद चुने गये।

Updated : 6 March 2019 2:01 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top