Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > बेलगाम हुए पुलिसकर्मी, अब दारोगा ने डाली विवादित पोस्ट

बेलगाम हुए पुलिसकर्मी, अब दारोगा ने डाली विवादित पोस्ट

बेलगाम हुए पुलिसकर्मी, अब दारोगा ने डाली विवादित पोस्ट
X

मेरठ/स्वदेश वेब डेस्क। योगी सरकार में पुलिसकर्मियों की कारगुजारी बढ़ती जा रही है। पार्षद के रेस्टोरेंट में दारोगा की पिटाई का मामला अभी गर्म है कि अब झांसी के जीआरपी थाने में तैनात एक दारोगा ने भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी को पीटने की अपील पुलिसकर्मियों से कर डाली। यह दारोगा मेरठ के कई थानों में तैनात रह चुका है। इससे पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। लखनऊ में एप्पल के मैनेजर विवेक तिवारी की एक सिपाही के गोली चलाने से हुई मौत के बाद से ही पुलिस विभाग में खलबली मची है। आरोपी सिपाही के समर्थन में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों ने काली पट्टी बांधी थी और उसके परिवार के लिए पैसा भी एकत्र किया। शासन में मामला गूंजने के बाद किसी तरह से पुलिस अधिकारियों ने इस मामले को दबाया। इसके बाद मेरठ में भाजपा पार्षद के रेस्टोरेंट में एक दारोगा ने अपनी महिला अधिवक्ता मित्र के साथ जमकर हंगामा किया और रिवाल्वर निकाल ली। इसके बाद दारोगा की पिटाई की गई। मेरठ पुलिस ने पार्षद के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई करते हुए डकैती तक की धाराएं लगाई। जबकि दारोगा व महिला अधिवक्ता के खिलाफ कुछ नहीं किया। अब पुलिस ने खुद डकैती की धाराएं हटाकर अपनी फजीहत कराई है।

लक्ष्मीकांत को पीटने का किया आह्वान : मेरठ पुलिस के वाट्सग्रुप पुलिस एंड मीडिया ग्रुप में एक दारोगा विश्वंभर दयाल गंगवार ने भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी को पीटने वाला मैसेज डाल दिया। यह मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इससे पुलिस अधिकारियों में खलबली मच गई और दारोगा की खोज शुरू हो गई। एसएसपी अखिलेश कुमार ने जांच कराई तो दारोगा के झांसी के जीआरपी थाने में तैनात होने की बात सामने आई। वहां के एसएसपी से कार्रवाई करने के लिए कहा गया। यह दारोगा मेरठ में भी कई थानों में तैनात रह चुका है।

सत्ताधारी पार्टी के कार्यकर्ताओं में उबाल : केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार होने के बाद भी जिस तरह से खाकी का कहर भाजपाइयों पर ही टूट रहा है, उससे कार्यकर्ताओं में उबाल है। 2019 लोकसभा चुनाव निकट आने से कार्यकर्ता गुस्साए हैं और अपनी बात राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. महेंद्र नाथ पांडे तक पहुंचा चुके हैं। पार्षद के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई के बाद अब पूर्व मंत्री व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. लक्ष्मीकांत के खिलाफ दारोगा की बयानबाजी ने कार्यकर्ताओं को गुस्से में डाल दिया है। मेरठ के एसएसपी अखिलेश कुमार का कहना है कि इस मामले में कार्रवाई के लिए झांसी के एसएसपी से बात हुई है।

Updated : 2018-10-26T15:33:39+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top