Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > भारत दौरा : ट्रंप दम्पति का ताजनगरी दौरा यादगार बनाने में जुटी योगी सरकार

भारत दौरा : ट्रंप दम्पति का ताजनगरी दौरा यादगार बनाने में जुटी योगी सरकार

- अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा से लेकर स्वागत-सत्कार की तैयारी परख रहे मुख्यमंत्री योगी - वर्ष 2000 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन आए थे ताजनगरी

भारत दौरा : ट्रंप दम्पति का ताजनगरी दौरा यादगार बनाने में जुटी योगी सरकार
X

लखनऊ। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी के 24 फरवरी को ताजनगरी दौरे के दौरान जहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होंगे। प्रदेश सरकार की कोशिश है कि ट्रंप दम्पति यहां से सुनहरी और कभी न भूलने वाली यादें लेकर जाएं। उनके लिए यूपी का दौरा हमेशा के लिए यादगार बन जाए। इसलिए उनके स्वागत सत्कार से लेकर गुजरने वाले रास्तों और ताजमहल से जुड़ी हर व्यवस्था को बेहतर बनाने की तैयारियां चल रही हैं।

दुनिया के सबसे सशक्त देश के सबसे ताकतवर व्यक्ति और अपने दोस्त ट्रंप के दौरे को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी बेहद उत्साहित हैं। ट्रंप का दौरा भारत और अमेरिका के रिश्तों को और मजबूती देगा। इसलिए उनके आगमन की तैयारियों लेकर दिल्ली से लेकर लखनऊ तक पैनी निगरानी हो रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं इन तैयारियों को परखने के बाद सुधार के कड़े निर्देश दे चुके हैं।

शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक अमेरिकी राष्ट्रपति का सुरक्षा घेरा अभेद्य होगा। शासन के निर्देश पर बरेली पुलिस व पीएसी के बम निरोधक दस्ते को आगरा ड्यूटी पर भेजा गया है। दोनों टीमों में छह-छह पुलिसकर्मी शमिल हैं। एडीजी जोन अजय आनंद के मुताबिक सुरक्षा का ब्लू प्रिंट के तहत काम किया जाएगा। इसमें सुरक्षा के लिए 6000 पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे। एनएसजी और एटीएस के कमांडो भी मुस्तैद रहेंगे। एडीजी के मुताबिक अमेरिकी राष्‍ट्रपति के रूट के दोनों ओर के सभी लोगों, किराएदारों का सत्यापन कर लिया गया है। सभी तैयारियां पूरी हैं।

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप 24 फरवरी की शाम करीब 4.15 बजे आगरा आएंगे। साथ में उनकी पत्‍नी मेलानिया ट्रंप भी होंगी। अतिथियों के स्‍वागत के लिए खुद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ आगरा में रहेंगे। ट्रंप यहां करीब 6.45 बजे तक रहेंगे।

ताजमहल के दीदार के लिए अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के लिए एएसआई ने खास मखमली शू कवर बनवाए हैं। सफेद रंग के अलावा विकल्प के तौर पर लाल रंग के भी शू कवर रखे गए हैं। ताजमहल के रॉयल गेट पर अमेरिकी राष्ट्रपति पत्नी के साथ पहुंचेंगे। उनके वाहनों का काफिला ताज के अंदर फोरकोर्ट तक पहुंचेगा। यहां केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय और एएसआई के अधिकारी राष्ट्रपति का स्वागत करेंगे। ताज के रॉयल गेट से पाथवे होकर वह मुख्य गुंबद पर पहुंचेंगे, जहां सीढ़ियों से पहले गुंबद पर जाने के लिए उन्हें और पत्नी को मखमली शू कवर पहनाए जाएंगे।

एएसआई की टीम ने ताजमहल के मुख्य गुंबद पर झूला डालकर पत्थरों की सफाई और जोड़ भरने का काम किया है। इसके साथ ही डायना सीट पर और सेंट्रल टैंक पर संगमरमर के बीच जोड़ों पर सफेद सीमेंट लगाया जा रहा है। अधीक्षण पुरातत्वविद वसंत कुमार स्वर्णकार के मुताबिक अमेरिकी राष्ट्रपति की ताजमहल यात्रा के लिए सभी तैयारियां की जा रही हैं। सुरक्षा एजेंसियों के साथ समन्वय कर सभी काम 23 तारीख से पहले पूरे कर लिए जाएंगे। संरक्षण और सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

ताजमहल देखने के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति को यमुना नदी का जल निर्मल स्वरूप नजर आएगा। इसके लिए सिंचाई महकमे ने व्यवस्था कर ली है। अधीक्षण अभियंता सिंचाई धर्मेंद्र फोगाट के मुताबिक आगरा में अमेरिकी राष्ट्रपति के कार्यक्रम के मद्देनजर यमुना में हरिद्वार बुलंदशहर कोट एक्केप से 500 क्यूसेक गंगाजल छोड़ा गया है। यह पानी मथुरा में तीन दिन में और इसके अगले दिन आगरा में पहुंच जाएगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति का काफिला 12 मिनट में 15 किमी रास्ता तय कर खेरिया से ताज पहुंच जाएगा। इस बीच में छब्बीस हजार स्कूल बच्चे हाथों में भारत और अमेरिका के झंडे लेकर स्वागत करेंगे। चौराहों पर 3000 कलाकार नृत्य के माध्यम से ट्रंप को ब्रज और देश की संस्कृति से रूबरू कराएंगे।

दरअसल इससे पहले जब वर्ष 2000 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन आगरा आये थे, तब पूरे रूट पर एक व्यक्ति नजर नहीं आया था। ऐसा सुरक्षा की दृष्टि से किया गया था। हालांकि क्लिंटन को ये वीरानापन पसन्द नहीं आया था। इसलिए इस बार ट्रंप के आगमन पर एयरपोर्ट से ताजमहल तक के रूट पर उनका जोश के साथ स्वागत का कार्यक्रम है। रूट के प्रमुख चौराहों पर कई कलाकार भी अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा के अपने दौरे के दौरान अफसरों से साफ कहा कि सुरक्षा में किसी तरह की चूक पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने मंडलायुक्त और जिलाधिकारी से कहा कि खेरिया एयरपोर्ट से लेकर ताजमहल तक कहीं भी गंदगी और धूल नजर नहीं आनी चाहिए। एक उत्सव की तरह अमेरिका के राष्ट्रपति का स्वागत किया जाए। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही यह भी ध्यान रखा जाए कि इस दौरान आमजन को कोई परेशानी न हो। उन्होंने अधिकारियों से सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में जानकारी प्राप्त की तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

Updated : 2020-02-19T17:13:46+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top