Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > योगी सरकार ने पेश किया 33 हजार 700 करोड़ रु. का अनुपूरक बजट, जानिए किस वर्ग को क्या दिया ?

योगी सरकार ने पेश किया 33 हजार 700 करोड़ रु. का अनुपूरक बजट, जानिए किस वर्ग को क्या दिया ?

योगी सरकार ने पेश किया 33 हजार 700 करोड़ रु. का अनुपूरक बजट, जानिए किस वर्ग को क्या दिया ?
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने विधान मंडल के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सोमवार को 33789.54 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट प्रस्तुत किया। प्रस्तावित अनुपूरक मांग में 13,756.84 करोड़ रुपये राजस्व लेखा तथा 20012.70 करोड़ रुपये पूंजी लेखा है। प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने विधानसभा में अनुपूरक बजट प्रस्तुत किया जबकि उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विधान परिषद के समक्ष अनुपूरक अनुदानों की मांग रखी। अनुपूरक बजट में युवाओं को बांटे जा रहे टैबलेट व स्मार्ट फोन और 2025 में प्रयागराज में आयोजित होने वाले महाकुम्भ के लिए भी व्यवस्था की गई है। साथ ही फरवरी में प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेस्टर समिट-2023 के आयोजन हेतु भी बजटीय व्यवस्था की गई है।

  • इन्क्यूबेटर्स को बढ़ावा देने तथा स्टार्टअप को संगठित करने हेतु 1000000000 रुपये।
  • स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण योजनान्तर्गत टैबलेट/स्मार्ट फोन के वितरण हेतु 3000000000 रुपये।
  • उत्तर प्रदेश को 01 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित करने के उद्देश्य से ग्लोबल इन्वेस्टर समिट-2023 के आयोजन हेतु 2965600000 रुपये।
  • स्मार्ट सिटी मिशन हेतु 8990000000 रुपये।
  • उत्तर प्रदेश में होने वली जी-20 सम्मेलन के बैठकों हेतु 250000000 रुपये।
  • महाकुम्भ 2025 प्रयागराज के आयोजन हेतु 5215500000 रुपये।
  • इको-टूरिज्म के विकास हेतु 200000000 रुपये।
  • आंगनवाड़ी केन्द्रों के अपग्रेडेशन हेतु 169300000 रुपये।
  • आंगनबाड़ी केन्द्रों के निर्माण हेतु 414000000 रुपये।
  • राज्य सड़क निधि के अन्तर्गत सड़कों के अनुरक्षण हेतु 5000000000 रुपये।
  • राज्य सड़क निधि के अन्तर्गत सड़कों का निर्माण सुदृढ़ीकरण हेतु 10000000000 रुपये।
  • ग्रीन इण्डिया मिशन हेतु 361900000 रुपये।
  • जनपद लखनऊ स्थित कुकरैल वन क्षेत्र में कुकरैल नाइट सफारी पार्क की स्थापना हेतु 10000000 रुपये।
  • उत्तर प्रदेश स्टेट डाटा सेन्टर के विस्तारीकरण हेतु 153200000 रुपये।
  • प्रदेश में निजी निवेशकर्ताओं द्वारा औद्योगिक क्षेत्र औद्योगिक पार्कों एवं औद्योगिक के निर्माण हेतु औद्योगिक विकास प्राधिकरणों को 80000000000 रुपये।
  • पीएम गतिशक्ति योजना के अन्तर्गत संचालित होने वाली योजनाओं के लिए रिवाल्विंग फण्ड की स्थापना हेतु 2000000000 रुपये।

Updated : 2022-12-11T22:52:16+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top