Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > कमलेश मर्डर केस : मुइनुद्दीन और अशफाक पर ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित

कमलेश मर्डर केस : मुइनुद्दीन और अशफाक पर ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित

गुजरात से गिरफ्तार तीनों आरो​पित को राजधानी लेकर पहुंची पुलिस

कमलेश मर्डर केस : मुइनुद्दीन और अशफाक पर ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित

लखनऊ। हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की बीते शुक्रवार को उनके कार्यालय पर हत्या करने वाले आरोपित मुइनुद्दीन और अशफाक पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने सोमवार को ढाई-ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया है। इसके साथ ही हत्याकांड में गुजरात से गिरफ्तार तीन आरोपितों मोसिन सलीम शेख, फैजान और रशीद अहमद को उत्तर प्रदेश पुलिस लखनऊ लेकर आ गई है। सोमवार सुबह की फ्लाइट से आरोपितों को लखनऊ लाया गया।

कमलेश तिवारी की हत्या मामले में चार जिलों और बाहर के राज्यों में सक्रिय यूपी पुलिस को शाहजहांपुर में सीसीटीवी फुटेज में मुइनुद्दीन और अशफाक को देखा गया है। दोनों एक चार पहिया वाहन से आते हुए दिखे हैं। इस सीसीटीवी फुटेज के मिलने पर यूपी पुलिस ने दोनों आरोपितों पर इनाम की राशि घोषित की है, जिससे दोनों को पहचान कर गिरफ्तार कराने में आम लोगों से मदद मिल सके।

पलिया में कमलेश के हत्यारों ने पांच हजार रुपये पर एक इनोवा बुक की और उससे वह रात करीब 12 बजे शाहजहांपुर पहुंचे। रेलवे स्टेशन के पूछताछ काउंटर पर जाकर उन्होंने ट्रेन के बारे में पता किया। इसके बाद इनोवा गाड़ी छोड़ दी। दोनों हत्यारे पैदल ही स्टेशन रोड से अशफाकनगर पुलिस चौकी की ओर जाते हुए सीसीटीवी में कैद हुए हैं। उनके पीछे लगी एसटीएफ भी कुछ ही देर के बाद शाहजहांपुर पहुंची। इनोवा के चालक को हिरासत में ले लिया और उससे कड़ी पूछताछ की। चालक ने बताया कि उसके मालिक पलिया में रहते हैं और मालिक के रिश्तेदार गुजरात में रहते हैं।

गुजरात से ही फोन आने पर पांच हजार रुपये किराए पर मालिक ने कार ले जाने के लिए कहा था, बाकी उसे कोई जानकारी नहीं है। इसके बाद एसटीएफ और स्थानीय पुलिस ने मिलकर आसपास के होटल, मदरसे व अन्य संभावित स्थानों पर दबिश देनी शुरू कर दी है, हालांकि अभी तक हत्यारों का पता नहीं लग सका है।

कमलेश हत्याकांड के बाद एसटीएफ को इनकी सीतापुर, गाजियाबाद में भी लोकेशन मिली थी। अशफाक के कानपुर से सिम खरीदने की भी जानकारी यूपी पुलिस व एसटीएफ को मिली थी। एटीएस भी इस मामले में सक्रिय है और सीमाओं पर दोनों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहें है, जिससे ये दोनों किसी जगह भागने में सफल ना हो पायें।

Updated : 2019-10-22T15:06:05+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top