Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > मसूद अजहर मामले को अपनी जीत बताकर मोदी चुनावी लाभ लेने को आतुर - मायावती

मसूद अजहर मामले को अपनी जीत बताकर मोदी चुनावी लाभ लेने को आतुर - मायावती

मसूद अजहर मामले को अपनी जीत बताकर मोदी चुनावी लाभ लेने को आतुर - मायावती
X

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने के मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दावों पर सवाल उठाये हैं।

मायावती ने शनिवार को ट्वीट किया कि मसूद अजहर को यूएनओ द्वारा ग्लोबल आतंकी घोषित होने को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी जीत बताकर इसका चुनावी लाभ लेने को आतुर हैं। उन्होंने कहा कि जबकि अमेरिका इसे अपनी जीत बताकर ईरान से तेल आयात बंद करके उससे तेल खरीदने की कीमत भारत से वसूलना चाहता है।

मायावती ने कहा कि देखिए प्रधानमंत्री की देशभक्ति देश को कहां ले जाती है। प्रधानमंत्री मोदी चुनावी व्यस्थता के कारण यूएनओ में भारतीय टीम को बधाई देना भूल गए लेकिन अमेरिकी विदेश मंत्री ने मसूद अजहर को 'ग्लोबल आतंकी' घोषित होने को अमेरिकी कूटनीति की जीत बताया और पत्र लिखकर यूएनओ में अमेरिकी टीम को बधाई भी दी। दोनों देश के नेतृत्व में क्या क्या अन्तर है?

वहीं इसके पलटवार में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया कि मायावती जी आपको किस बात का दु:ख है कि प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त राष्ट्र को मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के लिए बधाई नहीं दी या इस बात का कि मोदी सरकार के प्रयासों से संयुक्त राष्ट्र ने यह निर्णय लिया है। केशव मौर्य ने कहा कि आप कुछ भी कहो लेकिन देश की जनता ने मोदी जी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने का निश्चय कर लिया है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आंतकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को यूएन द्वारा ग्लोबल आतंकी घोषित करने को लेकर एक रैली में कहा था कि अब देश को जहां पर से भी खतरा होगा वहां पर घुस कर मारेंगे और अगर वो गोली मारेंगे तो हम गोला मारेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यूएनएससी ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसदू अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित किया है। आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई में यह एक बड़ी जीत की तरह है।

Updated : 4 May 2019 8:04 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top