Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > मुख्यमंत्री योगी ने आगरा को दिया तोहफा, फ्लैटेड फैक्टरी का किया शिलान्यास

मुख्यमंत्री योगी ने आगरा को दिया तोहफा, फ्लैटेड फैक्टरी का किया शिलान्यास

विश्वकर्मा दिवस पर हस्तशिल्पियों को मुख्यमंत्री योगी ने किया सम्मानित

मुख्यमंत्री योगी ने आगरा को दिया तोहफा, फ्लैटेड फैक्टरी का किया शिलान्यास
X

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को यहां हस्तशिल्पियों एवं कारीगरों का सम्मान किया। विश्वकर्मा दिवस पर एमएसएमई एवं हस्तशिल्प पुरस्कार वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि हस्तशिल्पियों ने तमाम अभाव और चुनौतियों के बावजूद इस परम्परा और हुनर को बचा के रखा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनके हुनर को एक मंच दिया है। उनकी प्रेरणा से 2017 में उप्र में नई सरकार का गठन होने के बाद इस क्षेत्र में कई कार्यक्रम प्रारंभ किए गए। यूपी में 90 लाख से भी ज्यादा एमएसएमई की इकाई है। एक जनपद एक उत्पाद (ओडीओपी) और विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना शुरू की। ओडीओपी योजना के तहत प्रत्येक जिले के उत्पाद की ब्रांडिंग, पैकेजिंग और उसके विकास को लेकर कार्य किया जा रहा है। वहीं विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के माध्यम से हस्तशिल्पियों को सम्मान दिया। उन्हें प्रशिक्षण दिलाया गया। इससे उन्हें आर्थिक लाभ भी हुआ।

उन्होंने कहा कि आजमगढ़ की ब्लैक पॉटरी के बारे में कोई नहीं जानता था। 2017 के पहले आजमगढ़ को लोग आतंकवाद का गढ़ के रूप में जानते थे। गोरखपुर के टेराकोटा के बारे में किसी को जानकारी नहीं थी। फिरोजाबाद का ग्लास उद्योग, कन्नौज का इत्र, अलीगढ़ के ताले, भदोही की कालीन और सहारनपुर का क्राफ्ट उद्योग आज आगे बढ़ रहा है।

पांच वर्ष में 13.5 लाख एमएसएमई इकाई पंजीकृत

मुख्यमंत्री ने कहा कि हस्तशिल्पियों की वजह से आज उत्तर प्रदेश आगे बढ़ा है। निवेश के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश के प्रति आज विश्वास बढ़ा है। उत्तर प्रदेश ने गुड गवर्नेंस में पहला स्थान प्राप्त किया है। पिछले पांच वर्ष में भारत सरकार के पोर्टल पर 13 लाख 50 हजार एमएसएमई इकाइयों का पंजीकरण हुआ है। इससे करीब 94 लाख लोगों को रोजगार मिला है।

फैक्टरी लगाने पर एक हजार दिन तक कोई जांच नहीं

मुख्यमंत्री ने कहा कि एमएसएमई इकाई लगाने के लिए आवेदन करने वाले उद्यमी को 72 घंटे के अंदर क्लियरेंस दे दिया जाएगा। इसके बाद एक हजार दिन तक कोई भी विभाग जांच के लिए नहीं पहुंचेगा। उस एक हजार दिन में उद्यमी अपने सारे कार्य पूरा कर लेंगे। सरकार प्रदेश में निवेश लाने के लिए नियमों में बहुत बदलाव किया है। सरकार निवेशकों की हर संभव मदद करेगी।

फ्लैटेड फैक्टरी का शिलान्यास किया

योगी ने कहा कि उत्पाद में क्वालिटी होनी चाहिए, लेकिन उसके डिजाइनिंग पैकेजिंग के लिए भी कार्य करना होगा। भारत सरकार ने इसके लिए आगरा, कानपुर, गोरखपुर का चयन किया है। आगरा में रेडीमेड गारमेंट्स के लिए क्लस्टर फ्लैटेड फैक्टरी का शिलान्यास हो रहा है। इसमें 40 इकाइयों की स्थापना एक ही कॉम्प्लेक्स में होगी। इसी तरह कानपुर में भी फ्लैटेड फैक्टरी का शिलान्यास हो रहा है। इस जगह 67 इकाइयों की स्थापना एक ही कॉम्प्लेक्स में होगी। इन कार्यों से रेडीमेड गारमेंट्स सेक्टर में बहुत बड़ा काम होने जा रहा है। आप अगर प्रोडक्ट के क्वालिटी पर ध्यान देंगे तो आपका प्रोडक्ट वैश्विक स्तर पर स्थान बनाएगा। उत्तर प्रदेश में कनेक्टिविटी बहुत बेहतर होगी। एयरपोर्ट, हाईवेज़, वाटरवेज के नए कनेक्टिविटी स्थापित हो रहे हैं।

Updated : 17 Sep 2022 1:23 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top