Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > मुख्यमंत्री ने शहीदों को किया नमन, कहा- देश को जब भी जरूरत पड़ी, बलिया ने नेतृत्व किया

मुख्यमंत्री ने शहीदों को किया नमन, कहा- देश को जब भी जरूरत पड़ी, बलिया ने नेतृत्व किया

मुख्यमंत्री ने शहीदों को किया नमन, कहा- देश को जब भी जरूरत पड़ी, बलिया ने नेतृत्व किया
X

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलिया बलिदान दिवस पर जिला कारागार में सेनानियों को नमन करने के बाद पुलिस लाइन के मैदान में कहा कि देश को जब भी जरूरत पड़ी, बलिया ने आगे बढ़ कर नेतृत्व किया।

मुख्यमंत्री ने सबसे पहले जिला कारागार में शहीद राजकुमार बाघ की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद पुलिस लाइन के मैदान में विशाल जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने बलिया के बागी चरित्र को झकझोरते हुए कहा कि लोग कहते हैं कि बलिया के लिए अनुशासन का कोई महत्व नहीं है। आजादी के बाद देश को जिस अनुशासन की आवश्यकता थी, वह अनुशासन तो बलिया ने दिखाया लेकिन आजादी के पहले वह अनुशासन नहीं दिखाया। जब जब आवश्यकता पड़ी, बलिया आगे बढ़कर काम करता आया है।मंगल पांडेय ने अंग्रेजों के खिलाफ पहली चिंगारी जलाई थी। भारतीयों से क्रूरता करने वाले अंग्रेज अधिकारियों को उन्होंने मारकर यह चिंगारी जलाई थी। मैं मंगल पांडेय की धरती पर आकर अभिभूत हूं।

भारत छोड़ो और करो या मरो के नारे का जिक्र करते हुए कहा कि चित्तू पांडेय के नेतृत्व में बलिया को देश में सबसे पहले आजाद होने का गौरव हासिल है। पचास हजार क्रांतिकारियों ने जेल पर धावा बोल कर अपने लोगों को छुड़ा लिया था। तब यहां के लोगों के हाथों में हथियार के रूप में भाला, फावड़ा, हल-कुदाल आदि ही थे। योगी ने कहा कि बलिया गंगा और सरयू के संगम तट पर बसा है। इसलिए यहां के लोगों के भाव में पवित्रता दिखती है। आपात काल का जिक्र करते हुए कहा कि उस समय भी बलिया ने जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में आगे आकर संविधान की रक्षा के लिए लड़ाई लड़ी थी। इसमें पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर का योगदान अविस्मरणीय है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश की आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 15 अगस्त को जो संकल्प लिया है, उसे पूरा करने में प्रदेश सरकार कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी। आह्वान किया कि देश का हर नागरिक उन संकल्पों को लेकर आगे बढ़ेगा तो आजादी के शताब्दी महोत्सव तक भारत को दुनिया की महाशक्ति बनने से कोई भी रोक नहीं सकता।भारत 200 करोड़ कोरोना का टीका लगाने वाला पहला देश है। इसलिए कोई कारण नहीं कि आने वाले समय में भारत दुनिया का नेतृत्व नहीं करेगा।

अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हर गरीब तक राशन, बिजली और स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई गई। घोषणा करते हुए कहा कि बलिया जिला जेल को अन्यत्र स्थानांतरित करते हुए यहां एक भव्य स्मारक बनेगा।कहा कि ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे के लिए जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई चल रही है। इस एक्सप्रेस-वे के बन जाने के बाद बलिया से लखनऊ ढाई घण्टे में पहुंच जाएंगे।

मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा की ओर इशारा करते हुए कहा कि बलिया में तीन साल पहले मेडिकल कालेज बन जाना चाहिए था लेकिन इस बार मुख्य सचिव को लेकर आया हूं। क्योंकि ये बलिया में ही पढ़े हैं। क्रांतिकारियों की स्मृति में एक मेडिकल कालेज जरूर बनेगा। इस मौके पर परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह, वीरेंद्र सिंह मस्त, नीरज शेखर, रविंदर कुशवाहा, केतकी सिंह, उपेन्द्र तिवारी, आनंद स्वरूप शुक्ल, डीएम सौम्या अग्रवाल समेत अन्य लोग मौजूद थे।

Updated : 2022-08-22T22:19:17+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top