Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > सोशल मीडिया पर अशफाक ने बढ़ाई थी कमलेश तिवारी से दोस्ती

सोशल मीडिया पर अशफाक ने बढ़ाई थी कमलेश तिवारी से दोस्ती

- शाहजहांपुर में देखे गए हत्यारोपित, वीडियो वायरल होने पर होटल और मदरसों में छापेमारी - पलिया से इनोवा गाड़ी बुक कराकर शाहजहांपुर पहुंचे थे हत्यारे, चालक गिरफ्तार

सोशल मीडिया पर अशफाक ने बढ़ाई थी कमलेश तिवारी से दोस्ती
X

लखनऊ। कमलेश तिवारी हत्या की वारदात को अंजाम देने के लिए हत्यारोपितों ने सोशल मीडिया के फेसबुक का सहारा लिया था। इसका खुलासा होने के बाद अब सर्विलांस व साइबर सेल की टीम फेसबुक आईडी के जरिये हत्यारों को गिरफ्तार करने में जुटी हुई है। दूसरी तरफ शाहजहांपुर से एक वीडियो सामने आया है, जिसमें इन हत्यारों को देखे जाने की बात सामने आयी है। इसके बाद एसटीएफ ने होटल और मदरसों में छापेमारी शुरू कर दी है। कार चालक को एसटीएफ ने हिरासत में ले लिया है।

पुलिस के लिए गले की फांस बनते जा रहे कमलेश तिवारी हत्याकांड में फरार हत्यारोपितों की धरपकड़ के लिए एटीएस, एसटीएफ समेत पुलिस की कई टीमें लगी हुई हैं। सोशल मीडिया की जांच में पुलिस को पता चला कि हत्यारों ने कमलेश तिवारी के नजदीक आने के लिए फेसबुक पर उनसे दोस्ती की थी। कमलेश तिवारी के साथ रहने वाले गौरव ने सूरत निवासी रोहित सोलंकी के नाम के युवक की फेसबुक प्रोफाइल पर लगी डीपी और सीसीटीवी कैमरे में दिख रहे हत्या के एक आरोपित का चेहरा मिलने के बाद आरोप लगाया है कि रोहित सोलंकी नाम के युवक ने कुछ महीने पहले फेसबुक आईडी बनायी थी। इसके बाद वह अक्सर फोन करके पार्टी से जुड़ने की बात कहता था। उसने पार्टी के बारे में कमलेश से कई बार जानकारी भी ली। गौरव का दावा है कि रोहित सोलंकी के नाम से फेसबुक आईडी बनाने वाला युवक हत्यारोपितों में से एक है। इसके बाद सर्विलांस और साइबर सेल की टीम ने फेसबुक आईडी से जुड़े लोगों की धरपकड़ शुरू कर दी है।

शाहजहांपुर में दिखे हत्यारोपित, चालक गिरफ्तार

कमलेश तिवारी हत्याकांड में फरार चल रहे संदिग्ध हत्यारोपितों की तलाश की जा रही है। इस दौरान शाहजहांपुर से एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें उन लोगों को देखे जाने की बात सामने आयी है। बताते हैं कि हत्यारे लखीमपुर जिले के पलिया से इनोवा गाड़ी बुक कराकर शाहजहांपुर पहुंचे थे। रेलवे स्टेशन पर होटल पैराडाइस में लगे कैमरे की सीसीटीवी फुटेज में इन दोनों संदिग्ध हत्यारों को देखे जाने का भी दावा किया गया है। दोनों संदिग्धों ने रेलवे स्टेशन पर इनोवा गाड़ी छोड़ दी और पैदल रोडवेज बस स्टैंड की तरफ जाते हुए सीसीटीवी कैमरे में दिखाई दिए। एसटीएफ ने कार चालक को हिरासत में ले लिया है। इस बात की आशंका व्यक्त की जा रही है कि संदिग्ध शाहजहांपुर में ही कहीं छिपे हुए हैं, एसटीएफ की टीमें छापेमारी कर रही हैं।

Updated : 21 Oct 2019 8:47 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top