Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > बाबा रामदेव करेंगे एबीवीपी के 68वें राष्ट्रीय अधिवेशन का उद्घाटन

बाबा रामदेव करेंगे एबीवीपी के 68वें राष्ट्रीय अधिवेशन का उद्घाटन

- दिसम्बर में मिशन साहसी अभियान शुरू करेगी एबीवीपी : प्रो. नीतू सिंह

बाबा रामदेव करेंगे एबीवीपी के 68वें राष्ट्रीय अधिवेशन का उद्घाटन
X

लखनऊ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) का 68वां राष्ट्रीय अधिवेशन इस बार राजस्थान के जयपुर शहर में होगा। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का राष्ट्रीय अधिवेशन 25 नवंबर से 27 नवंबर तक होगा। अधिवेशन का उद्घाटन योगगुरू बाबा रामदेव करेंगे। तीन दिवसीय अधिवेशन में राष्ट्रीय स्तर पर शैक्षिक व सामाजिक विषयों पर प्रस्ताव भी लाए जाएंगे। सेवा कार्यों के लिए इस वर्ष के यशवंतराव पुरस्कार के लिए नंद कुमार पालवे को चयनित किया गया। यह जानकारी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की प्रान्तीय अध्यक्ष प्रो. नीतू सिंह ने सोमवार को नवीन मार्केट स्थित परिषद के कार्यालय पर आयोजित प्रेसवार्ता में दी।

प्रांत अध्यक्ष प्रो. नीतू सिंह ने बताया कि 11 नवंबर से 13 नवंबर रायबरेली के गोपाल सरस्वती विद्या मंदिर में तीन दिवसीय प्रांत अधिवेशन संपन्न हुआ जिसमें 13 प्रशासनिक 25 संगठनात्मक जिले से 754 छात्र-छात्राओं शिक्षकों की उपस्थिति रही। इस अधिवेशन में वर्ष भर की गतिविधियों की प्रदर्शनी बनाई गई जिसको अमर शहीद शैलेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर रखा गया। प्रान्तीय अधिवेशन में शैक्षिक समस्याओं को लेकर चिंतन का प्रस्ताव पारित किए गए जिसमें उत्तर प्रदेश का शैक्षिक परिदृश्य, उत्तर प्रदेश का वर्तमान परिदृश्य, उद्यमिता तीनों प्रस्ताव छात्रों के सुझाव के साथ पारित किए गए। प्रांत छात्रा संयोजक तूलिका श्रीवास्तव ने बताया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद छात्राओं को प्रशिक्षित करने के लिए हर वर्ष मिशन साहसी अभियान आयोजित करती आ रही है। बीते दो वर्षों से कोविड के चलते मिशन साहसी के कार्यक्रम नहीं हो सके। इस बार 15 दिसंबर से 30 दिसंबर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अपना यह अभियान सभी विद्यालयों में चलाने वाला है जिसमें छात्राओं को आत्मरक्षा के गुण सिखाए जाएंगे। प्रेस वार्ता में मीडिया सह संयोजक शिवम सिंह सम्राट उपस्थित रहे।

दिसम्बर में शुरू होगा मिशन साहसी अभियान : प्रांत मंत्री आकाश पटेल रुद्र ने परिषद के आगामी कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए बताया कि विद्यार्थी परिषद छह दिसंबर को बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि को सामाजिक समरसता दिवस के रूप में मनाएंगे। इसके अलावा 15 से 30 दिसंबर को विद्यार्थी परिषद मिशन साहसी अभियान के माध्यम से छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण करवाएंगे। सेवार्थ विद्यार्थी के माध्यम से ठंड में जरूरतमंदों को कपड़े वितरित किए जाएंगे। साथ विभिन्न चौराहों पर नेकी की दीवार बनाएंगे, जिससे जरूरतमंदों को गर्म कपड़े मिल सके, 12 जनवरी से 23 जनवरी तक युवा पखवाड़ा का आयोजन किया जाएगा। इसमें विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्र-छात्राएं सहभाग करेंगे, 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के अवसर पर विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा विभिन्न कार्यक्रम के माध्यम से गणतंत्र दिवस मनाया जायेंगे।

Updated : 22 Nov 2022 10:25 AM GMT
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top