Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > यूपी की 29 पंचायतों को मिला दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तीकरण सम्मान

यूपी की 29 पंचायतों को मिला दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तीकरण सम्मान

पायलट प्रोजेक्टा के तहत देश के 9 राज्यों में स्वामित्वि योजना को शुरू किया गया। इस योजना के अन्तर्गत प्रदेश के 425 गांव के 57 हजार संपत्ति मालिकों को उनके घरौनी प्रमाण पत्र दिए गए। इस योजना से उत्तर प्रदेश के 1409 गांव लाभान्वित हो रहे हैं।

यूपी की 29 पंचायतों को मिला दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तीकरण सम्मान
X

लखनऊ: राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण और आत्मनिर्भर ग्रामीण भारत को बढ़ावा देने के लिए दीनदयाल उपाध्याीय पंचायत सशक्तीनकरण सम्मान से यूपी के दो जिलों की 29 ग्राम पंचायतों को नवाजा। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने पूरे देश में स्वानमित्वम योजना की शुरूआत की। अभी पायलट प्रोजेक्टा के तहत देश के 9 राज्यों में स्वामित्वि योजना को शुरू किया गया। इस योजना के अन्तर्गत प्रदेश के 425 गांव के 57 हजार संपत्ति मालिकों को उनके घरौनी प्रमाण पत्र दिए गए। इस योजना से उत्तर प्रदेश के 1409 गांव लाभान्वित हो रहे हैं।

प्रदेश की पंचायतों को मिला राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान

यूपी पंचायती राज विभाग की सचिव किंजल सिंह ने बताया कि प्रदेश की 2 जिला पंचायतों हापुड़ व शामली को दीन दयाल पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार से नवाजा गया है। योजना के जरिए प्रत्येक पंचायत को 50 लाख रुपये की धनराशि से सम्मानित किया गया है।

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान 4 क्षेत्र पंचायतों बर्डपुर जनपद, सिद्धार्थनगर, क्षेत्र पंचायत-नवाबगंज जनपद-उन्नाव, क्षेत्र पंचायत-फिरोजाबाद जनपद-फिरोजाबाद एवं क्षेत्र पंचायत-चमरौन जनपद-रामपुर को सम्माेनित किया। इसमें प्रत्येक पंचायत को 25 लाख रुपये की धनराशी से सम्मनित किया गया। इसके साथ ही प्रदेश की 29 ग्राम पंचायतों को दीन दयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तीकरण पुरस्कार भी दिया गया।

यूपी के चार लाख से अधिक को मिला ई संपत्ति कार्ड

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विडियो कांफ्रेसिंग के जरिए देश के ग्रामीण इलाकों को तकनीक जोड़ने व सशक्तच बनाने के लिए दो तोहफों से नवाजा। पीएम ने सबसे पहले पंचायत पुरस्कार की शुरूआत की तो वहीं पूरे देश में स्वातमित्वद योजना की शुरूआत की गई। स्वापमित्वज योजना को पहले चरण में देश के महाराष्ट्र, कर्नाटक, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश और पंजाब व राजस्थान के चुनिंदा गांवों में 2020-21 में लागू किया गया था।

इस योजना में पूरे देश के लगभग 6.62 लाख गांवों को शामिल किया गया है। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर देश 4.09 लाख संपत्ति मालिकों को उनके ई-संपत्ति कार्ड दिए। वहीं इस योजना से प्रदेश के 1409 गांव लाभान्वित होंगे। स्वाोमित्वत योजना के तहत देश के गावों में रिहायशी जायदाद (आवास) का ड्रोन से सर्वेक्षण कर लोगों को उसके मालिकाना हक का दस्तावेज (ग्रामीण आवासीय अभिलेख/ घरौनी) मुहैया कराई जाती है।

नानाजी राष्ट्रीदय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार

किंजल सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री ने यूपी के ग्राम पंचायत-साहबपुर, जनपद-प्रतापगढ़ को नानाजी देशमुख राष्ट्रीउय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार से नवाजा गया। इसके अलावा ग्राम पंचायत-कामेट, जनपद-इटावा को ग्राम पंचायत विकास योजना पुरस्कार योजना के जरिए पुरस्कृवत किया गया। इनको 5-5 लाख की धनराशि दी गई।

अकबरपुर-जालौन को बाल मैत्रिक ग्राम पंचायत पुरस्कार

कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ग्राम पंचायत-अकबरपुर, जनपद-जालौन को बाल मैत्रिक ग्राम पंचायत पुरस्कारर से सम्माननित किया। इस योजना के अर्न्‍तगत पंचायत को 5 लाख रुपये की धनराशि प्रदान की गई। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने स्वामित्व योजना के अंतर्गत ई-संपत्ति कार्डों के वितरण भी किया।

Updated : 24 April 2021 4:48 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top