Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > यमुना में खुदाई कराने के लिए सक्रिय हुई केंद्र सरकार

यमुना में खुदाई कराने के लिए सक्रिय हुई केंद्र सरकार

हर वर्ष यमुना में बारिश के मौसम में भरपूर पानी आता है लेकिन, यह सारा पानी यमुना में कुछ ही दिन ठहर पाता है और महीने भर बाद ही सारा पानी बह जाता है।

यमुना में खुदाई कराने के लिए सक्रिय हुई केंद्र सरकार
X

केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन को दिए निर्देश

विधायक जगन प्रसाद गर्ग के प्रयास लाए रंग पत्र द्वारा दिया था मंत्रालय से किया था अनुरोध

आगरा । हर वर्ष यमुना में बारिश के मौसम में भरपूर पानी आता है लेकिन, यह सारा पानी यमुना में कुछ ही दिन ठहर पाता है और महीने भर बाद ही सारा पानी बह जाता है। परिणाम यह होता है कि यमुना बारिश के तुरंतबाद ही दम तोड़ती नजर आती है और रह जाता है तो केवल नालों का पानी। यमुना में पानी को रोकने के वर्षो से दावे और वादे होते रहे लेकिन, काम नहीं हो सका। इस बार उम्मींद की किरण जगी है और केंद्र सरकार ने संज्ञान लिया है। यमुना के उद्धार की दिशा में विधायक जगनप्रसाद गर्ग पिछले दिनों केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखकर यमुना में ताजगंज से बल्केश्वर होते हुए कैलाश महादेव मंदिर तक यमुना की पांच मीटर गहरी खुदाई कराने संबंधी अनुरोध किया था। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से विधायक जगनप्रसाद गर्ग के इस सुझाव का संज्ञान लेते हुए इस मामले को राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन में समुचित कार्रवाही के लिए भेज दिया है और इस बात की सूचना विधायक जगनप्रसाद गर्ग को पत्र द्वारा भी दे दी है।

आगरा की पेयजल की समस्या के निदान के अलावा यमुना मईया में वर्षभर जल रहे। इसके लिए वह इस योजना को मूर्त रूप दिलाकर ही रहेंगे। इस ना केवल यमुना का उद्धार होगा बल्कि हमारी संस्कृति की जीवंत होगी। वहीं यमुना में सिल्ट जमा होने के कारण कीड़ों से जो ताजमहल के रंग पर असर पड़ रहा है, यह समस्या भी दूर होगी।

- जगन प्रसाद गर्ग, विधायक, उत्तरी क्षेत्र।


Updated : 2018-07-05T20:10:50+05:30

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top