Top
Home > राज्य > तीन दिन, तीन महारैली, तीन दिग्गज गरजेंगे जयपुर में

तीन दिन, तीन महारैली, तीन दिग्गज गरजेंगे जयपुर में

तीन दिन, तीन महारैली, तीन दिग्गज गरजेंगे जयपुर में
X

जयपुर/स्वदेश वेब डेस्क। जयपुर में आने वाले तीन दिन बेहद अहम रहेंगे। राजधानी में जाट नेता और विधायक हनुमान बेनीवाल, राजपूत करणी सेना और आम आदमी पार्टी की रैली से राजनीतिक माहौल गर्माया रहेगा। जहां राजपूत और जाट समाज हुंकार रैली आयोजित कर रहा है तो आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी का जयपुर दौरा खास माना जा रहा है।

राजधानी में राजपूत करणी सेना 27 अक्टूबर शनिवार को विद्याधर नगर स्टेडियम में भैरोसिंह शेखावत के समाधि स्थल पर राजपूत करणी सेना की हुंकार रैली आयोजित करेंगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष महिपाल सिंह ने अल्टीमेटम दिया है कि उनके समाज से आने वाले प्रत्याशियों को सही स्थान राजनीतिक दलों ने नहीं दिया तो समाज दूसरे विकल्प पर भी विचार कर सकता है। यह रैली इसलिए भी खास है कि राजपूत क्षत्राणियां भी टिकट की दौड़ में है।

इसके अलावा जयपुर में ही 28 अक्टूबर रविवार को रामलीला मैदान में आम आदमी पार्टी की रैली होगी। इसमें आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खुद शिरकत करेंगे। हालांकि प्रदेश में अभी आप का असर नहीं है लेकिन तीसरा मोर्चे में उनकी पार्टी के शामिल होने की संभावना है, जिसको देखते हुए उनकी रैली भी खास मानी जा रही है। इन तीन रैलियों पर ही दोनों प्रमुख दलों की नजर बनी हुई है।

दूसरी तरफ जाट नेता और प्रदेश में तीसरे मोर्चे के अगुवाई कर रहे हनुमान बेनीवाल मानसरोवर वीटी रोड पर 29 अक्टूबर सोमवार को रैली करेंगे। हनुमान बेनीवाल इस समस कांग्रेस-भाजपा दोनों दलों के लिए चुनौती बने है। उनकी हुंकार से दोनों पार्टियों की नींद पहले ही उड़ी है। अब उनकी राजधानी में महाहुंकार रैली भाजपा-कांग्रेस के समीकरण और प्रभावित कर सकती है।

श्री राजपूत सभा ने सौंपा समर्थन पत्र: 28 अक्टूबर को सीकर में आयोजित होने वाली ब्राह्मण समाज की ब्रह्म आक्रोश महापंचायत को श्री राजपूत सभा ने समर्थन सौंपा है। आरक्षण मंच के प्रदेश संयोजक विजय महर्षि ने बताया कि श्रीराजपूत सभा जयपुर के अध्यक्ष गिरिराज सिंह लोटवाड़ा ने समर्थन पत्र सौंपा। लोटवाड़ा ने कहा कि ब्राह्मण समाज सदा पूजनीय रहा है तथा यही समाज है जिसने हमेशा लोगों की ओर सर्व समाज का भला किया है। उनके इस सहयोग को भुलाया नहीं जा सकता। ब्राह्मण समाज की पांचो मांगों का राजपूत सभा पूर्णतया समर्थन करती है और राजपूत समाज ब्राह्मण समाज एवं आरक्षण मंच के साथ है।

Updated : 2018-10-27T02:46:06+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top