Top
Home > राज्य > रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट विधानसभा में हुई पेश

रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट विधानसभा में हुई पेश

अकाली दल ने सदन से किया बहिष्कार

रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट विधानसभा में हुई पेश
X

चंडीगढ़। पंजाब की पूर्व अकाली-भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान पंजाब में हुई गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी के दौरान बरगाड़ी व बहबलकलां कांड की जांच रिपोर्ट सोमवार को विधानसभा के पटल पर रख दी गई। इस रिपोर्ट पर मंगलवार को सदन की कार्यवाही के दौरान बहस होगी। इस बहस को पहली बार सभी टीवी चैनलों पर लाइव किया जाएगा।

पंजाब की पूर्व अकाली-भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान राज्य में गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाएं हुई थी। जिनमें बहबलकलां गोलीकांड मुख्य रूप से शामिल रहा है। पंजाब के सत्ता परिवर्तन के बाद सरकार ने बेअदबी की घटनाओं की जांच के जस्टिस रणजीत सिंह आयोग का गठन किया था। हालांकि अकाली दल व भाजपा शुरू से ही इस आयोग का विरोध करते रहे हैं लेकिन आयोग चरणबद्ध तरीके से अपनी रिपोर्ट पेश कर चुका है।

पंजाब सरकार ने विधानसभा में मानसून सत्र की कार्यवाही के दौरान इस रिपोर्ट को आज सदन के पटल पर रख दिया। हालांकि रिपोर्ट के लीक होने को लेकर कई तरह के दावे किए जा रहे हैं लेकिन सरकार इन दावों को खारिज करती रही है। आज रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट को सदन के पटल पर रखने से पहले पंजाब सरकार ने एक बैठक का भी आयोजन किया।

सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले शिरोमणि अकाली दल ने सदन के बाहर रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट को पांच-पांच रुपये में बेचने के लिए बकायदा स्टॉल लगाकर पंजाब सरकार व जस्टिस रणजीत सिंह आयोग पर जमकर कटाक्ष किया। सुखबीर बादल ने दावा किया कि उन्होंने आयोग की रिपोर्ट बेचकर सौ रुपये कमाए हैं।

इस बीच सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो अकाली विधायक सदन के भीतर पहुंच गए। प्रश्नकाल के बाद जैसे ही संसदीय कार्यमंत्री ब्रह्म महिंद्रा ने सदन के पटल पर बेअदबी मामलों को लेकर जस्टिस रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट रखी तो अकाली विधायकों ने हल्ला मचाना शुरू कर दिया। इस बीच ब्रह्ममहिंद्रा ने रिपोर्ट पर सरकार की तरफ से टिप्पणी करते हुए उसे टेबल करते हुए कहा कि मंगलवार को इस रिपोर्ट पर बहस होगी। विधासभा स्पीकर ने बहस के लिए दो घंटे का समय तय किया है।

दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के विधायक ने बहस के लिए समय बढ़ाए जाने की मांग की। वहीं अकाली विधायकों ने पहले की तरह आज भी इस रिपोर्ट को सिरे से खारिज कर दिया। इसी दौरान विधानसभा स्पीकर ने मीडिया से बातचीत में साफ किया कि मंगलवार को इस रिपोर्ट पर बहस के लिए समय बढ़ाया जा सकता है। इस रिपोर्ट पर बहस की कार्यवाही को टीवी चैनल पर लाइव किया जाएगा।

Updated : 2018-08-28T01:03:58+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top