Top
Home > राज्य > अन्य > शिवसेना अध्यक्ष बोले - जबरन पेड़ काटने वालों को सबक सिखाएंगे

शिवसेना अध्यक्ष बोले - जबरन पेड़ काटने वालों को सबक सिखाएंगे

शिवसेना अध्यक्ष बोले - जबरन पेड़ काटने वालों को सबक सिखाएंगे

-पुलिस बंदोबस्त में गोरेगांव आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई जारी

- 80 से अधिक पर्यावरण प्रेमी हिरासत में

मुंबई। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने शनिवार को कहा कि आरे कॉलोनी में जबरन पेड़ काटने वालों को समय आने पर सबक सिखाएंगे। इसके बावजूद आरे कालोनी में मेट्रो प्राधिकरण की ओर से पेड़ों की कटाई जारी है। अब तक 800 से ज्यादा पेड़ काटे जाने की खबर मिली है। गोरेगांव में जबर्दस्त पुलिस बंदोबस्त लगाया गया है। सुबह से 80 से अधिक पर्यावरण प्रेमियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए जाने वालों में शिवसेना प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी, पूर्व महापौर शुभा राउल, पर्यावरण प्रेमी रमेश साबले भी शमिल है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को हाईकोर्ट ने आरे कॉलोनी में मेट्रो परियोजना 3 के लिए पेड़ों की कटाई पर रोक लगाने वाली पर्यावरण प्रेमियों की याचिका ठुकरा दिया था। इसके बाद देर रात से ही मेट्रो प्राधिकरण ने पुलिस के सहयोग से आरे कालोनी में पेड़ों की कटाई शुरु कर दिया था। इसका पता लगते ही पर्यावरण प्रेमियों ने गोरेगांव पूर्व में आरे कालोनी के बाहर जमाव करना शुरु कर दिया था लेकिन वहां तैनात पुलिस ने आंदोलन कर रहे पर्यावरण प्रेमियों को हिरासत में लेकर गोरेगांव, आरे , समता नगर, दहिसर आदि पुलिस स्टेशनों में ले गई। बताया जा रहा है दहिसर पुलिस स्टेशन में 25 पर्यावरण प्रेमियों को रखा गया है और उनपर कार्रवाई किए जाने की प्रक्रिया शुरु है।

आरे कॉलोनी में मेट्रो कारशेड के लिए हो रही कटाई का शिवसेना युवा अध्यक्ष आदित्य ठाकरे ने कड़ा विरोध किया है। आदित्य ने कहा कि आरे में पेड़ कटाई वालों को पाक अधिकृत कश्मीर में भेज देना चाहिए। राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक व विधायक जीतेंद्र आव्हाड ने आरे में जबरन की जा रही पेड़ों की कटाई का तीव्र निषेध व्यक्त किया है। जीतेंद्र आव्हाड ने कहा कि लोगों को शुद्ध सास लेना जरुरी है,विकास के नाम पर सरकार लोगों की शुद्ध सास छीन रही है।

उल्लेखनीय है कि मेट्रो परियोजना 3 के लिए मेट्रो प्राधिकरण 2646 पेड़ों की कटाई करने वाली है। पर्यावरण प्रेमी इसका विरोध कर रहे हैं।

Updated : 5 Oct 2019 2:25 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top