Latest News
Home > राज्य > अन्य > कोरोना वायरस को अल्लाह की सजा बताकर नोटों से नाक साफ करने वाला शख्स गिरफ्तार

कोरोना वायरस को अल्लाह की सजा बताकर नोटों से नाक साफ करने वाला शख्स गिरफ्तार

कोरोना वायरस को अल्लाह की सजा बताकर नोटों से नाक साफ करने वाला शख्स गिरफ्तार
X

मुंबई। कोरोना वायरस को अल्लाह की सजा बताकर नोटों से नाक और मुंह साफ करने का वीडियो बनाना एक शख्स को महंगा पड़ गया। नासिक पुलिस ने उस शख्स की पहचान कर गुरुवार को उसे गिरफ्तार किया है। नासिक पुलिस ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने अपने ट्वीट में बताया कि नासिक ग्रामीण पुलिस (महाराष्ट्र ग्रामीण) की तरफ से अभियुक्त के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई है और वह पुलिस की हिरासत में है।

गौरतलब है कि एक वीडियो में शख्स दिखाई दे रहा है जो पांच सौ के कुछ नोटों से वह अपनी नाक और मुंह को साफ कर रहा है। इस वीडियो में वह यह कहता हुआ दिखाई दे रहा है- "कोरोना जैसी बीमारी का कोई इलाज नहीं है क्योंकि यह अल्लाह की सजा है, आप लोगों के लिए।"

गौरतलब है कि संक्रमण का केंद्र बन चुके दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज के तबलीगी जमात में हाल में शामिल हुए देशभर के करीब 9000 लोगों की पहचान कर क्वारंटाइन किया जा चुका है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश भर में मिले 1965 पॉजिटिव केस में से 400 निजामुद्दीन मरकज से जुड़े हुए हैं।

देश भर में तबलीगी जमात के जो 9000 लोगों की पहचान की गई है, उनमें से 1300 लोग विदेशी हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के मुताबिक बीते 24 घंटे में कोरोना के 328 नए मामले सामने आए हैं। से संक्रमित 12 लोगों की जान गई है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया है कि 151 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

लव अग्रवाल ने एक तबलीगी जमात से जुड़े लोगों के कोरोना संक्रमण का आंकड़ा पेश करते हुए बताया कि तमिलनाडु से 173, राजस्थान से 11, अंडमान निकोबार से 9, दिल्ली से 47, तेलंगाना से 33, आंध्र प्रदेश से 67, असम से 16, जम्मू-कश्मीर से 22 और पुदुचेरी से दो पॉजिटिव केस मिले हैं।

कोरोना वायरस देश में काफी तेजी से बढ़ा है और यह गुरुवार तक दो हजार के करीब पहुंच गया है, जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 50 हो गई। कोरोना वायरस के मामलों में इजाफे के लिहाज से एक दिन में अब तक की सबसे अधिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है और 328 मामले दर्ज किए गए।

आपको बता दे कि निजामुद्दीन मरकज में एक मार्च से 15 मार्च तक तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया था। निजामुद्दीन पश्चिम में तबलीगी जमात में हिस्सा लेने वाले छह लोगों की तेलंगाना में, एक की गुजरात में और जम्मू कश्मीर में एक व्यक्ति की मौत भी हो गई है।

Updated : 2 April 2020 2:26 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top