Home > राज्य > अन्य > साढ़े आठ घंटे की पूछताछ में राजीव के जवाबों से संतुष्ट नहीं सीबीआई

साढ़े आठ घंटे की पूछताछ में राजीव के जवाबों से संतुष्ट नहीं सीबीआई

-रविवार को कुणाल घोष के साथ आमने-सामने होगी पूछताछ

साढ़े आठ घंटे की पूछताछ में राजीव के जवाबों से संतुष्ट नहीं सीबीआई
X

कोलकाता। अरबों रुपये के चिटफंड घोटाला मामले में साक्ष्यों को मिटाने के आरोपित कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से सीबीआई की टीम ने साढ़े आठ घंटे तक मैराथन पूछताछ की। सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार मेघालय के शिलांग स्थित सीबीआई दफ्तर में उनसे सुबह 11 बजे पूछताछ शुरू की गई, जो रात 7:30 बजे तक चली। पता चला है कि राजीव कुमार जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं और जांच एजेंसी को मिसलीड करने की कोशिश की है।

सीबीआई के एक उच्च पदस्थ अधिकारी ने नाम नहीं छापने की करने की शर्त पर बताया कि कई सवाल ऐसे हैं जिसका जवाब राजीव कुमार ने नहीं दिया है। उनसे रविवार सुबह 11:00 बजे से दोबारा पूछताछ शुरू होगी। उस दौरान तृणमूल के निलंबित राज्यसभा सांसद कुणाल घोष भी मौजूद रहेंगे। आवश्यकता पड़ने पर दोनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की जाएगी।

इधर, सीबीआई के समन पर कुणाल घोष शनिवार को ही शिलांग पहुंच गए हैं। सीबीआई ने उन्हें सुरक्षित एक होटल में ठहराया है। कोलकाता से रवाना होने के समय घोष ने स्पष्ट किया कि वे किसी के साथ भी बैठकर आमने-सामने की पूछताछ में हिस्सा ले सकते हैं। उन्हें इससे कोई समस्या नहीं है। उनसे पूछताछ करने के लिए सीबीआई की दूसरी टीम दिल्ली से कोलकाता और यहां से शिलांग पहुंची है। यह टीम तीन सदस्यों की है। शनिवार दोपहर को टीम कोलकाता पहुंची थी। यहां सॉल्टलेक के सीजीओ कॉम्प्लेक्स स्थित जांच एजेंसी के पूर्वी क्षेत्रीय मुख्यालय में अधिकारियों से मुलाकात के बाद कुछ तथ्यों को लेकर यह टीम तुरंत शिलांग के लिए रवाना हो गई है। दमदम हवाई अड्डे से यह टीम गुवाहाटी पहुंची, जहां से सड़क मार्ग से शिलांग पहुंची है। अपराह्न 3:00 बजे तक दिल्ली के ये सीबीआई अधिकारी शिलांग पहुंचे। फिलहाल, टीम वहां की सीबीआई दफ्तर में नहीं पहुंची हैं बल्कि शिलांग के एक रेस्तरां में टीम को ठहराया गया है। इनकी ओर से राजीव कुमार को रविवार को भी उपस्थित रहने के लिए जानकारी दे दी गई है। यह टीम उनसे रविवार सुबह 11:00 बजे से पूछताछ करेगी।

उल्लेखनीय है कि चिटफंड घोटाले के मामले में पूछताछ के लिए गत रविवार यानी तीन फरवरी को सीबीआई की विशेष टीम कोलकाता के लाउडन स्ट्रीट स्थित कोलकाता पुलिस आयुक्त के आवास पर पहुंची थी। वहां उन्हें पुलिस आयुक्त के घर में नहीं घुसने दिया गया और बाद में पुलिस ने इन्हें कॉलर पकड़कर घसीटते हुए हिरासत में ले लिया था। उसके बाद वाले दिन सोमवार को सीबीआई की टीम सुप्रीम कोर्ट चली गई थी और इस मामले पर तत्काल सुनवाई की अर्जी लगाई थी। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिया था कि सीबीआई के समन पर राजीव कुमार शिलांग के सीबीआई दफ्तर में पूछताछ के लिए हाजिर होंगे। हालांकि, उच्चतम न्यायालय ने यह भी स्पष्ट किया है कि राजीव को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा और ना ही उनके खिलाफ सख्ती बरती जाएगी।

इसके बाद सीबीआई ने उन्हें समन भेजकर नौ तारीख को पूछताछ के लिए शिलांग दफ्तर में हाजिर होने को कहा था, जिसके अनुसार एक दिन पहले यानी आठ फरवरी को ही राजीव शिलांग पहुंच गए थे। आज उनसे साढ़े आठ घंटे पूछताछ हुई है। सीबीआई का दावा है कि राजीव ना तो जांच में सहयोग कर रहे हैं और ना ही जांच एजेंसी के सारे सवालों के जवाब अभी मिल सके हैं।

Updated : 9 Feb 2019 6:30 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top