Top
Home > राज्य > अन्य > कुलगांव में मारे गए पांचों मजदूरों के शव परिजनों तक पहुंचाए गए

कुलगांव में मारे गए पांचों मजदूरों के शव परिजनों तक पहुंचाए गए

कुलगांव में मारे गए पांचों मजदूरों के शव परिजनों तक पहुंचाए गए

कोलकाता। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के कुलगांव में आतंकियों द्वारा मौत के घाट उतारे गए पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिला निवासी पांचों मजदूरों के शव गुरुवार को मुर्शिदाबाद उनके परिजनों के पास लाये गए।

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के रहने वाले कमालुद्दीन, मुरसालिम, रोफिक, नोमुद्दीन और रफीकुल सेब के बाग में मजदूरी करने जम्मू-कश्मीर गए थे। मंगलवार रात जम्मू-कश्मीर के कुलगांव में आतंकियों ने गोली मारकर पश्चिम बंगाल के पांच मजदूरों की हत्या कर दी थी। एक अन्य मजदूर जोहिरुद्दीन भी घायल हुआ था जो गुरुवार को इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ चुका है। इस तरह से मरने वालों की संख्या बढ़कर छह हो गई है।

पांचों मजदूरों के शवों को मंगलवार रात 11:30 बजे श्रीनगर हवाई अड्डे से दिल्ली और वहां से कोलकाता हवाई अड्डे के लिए रवाना किया गया था। बुधवार रात करीब 12 बजे पांच मजदूरों के शव दमदम हवाई अड्डे पर लाये गए जहां से मुर्शिदाबाद के बहालनगर गांव के लिए रवाना किये गए। गुरुवार तड़के शवों को परिजनों तक पहुंचा दिया गया। शवों के पहुंचते ही चारों तरफ मातमी चीख से पूरा इलाका शोक में डूब गया। बड़ी संख्या में लोग इनके अंतिम दर्शन करने के लिए पहुंचे।

दमदम हवाई अड्डे पर पहले से ही इन शवों को ले जाने के लिए पांच शव वाहन इंतजार कर रहे थे। राज्य के शहरी विकास मंत्री और कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम हवाई अड्डे पर मौजूद थे। उन्होंने वहां मीडिया से कहा कि मुख्यमंत्री ने मारे गए मजदूरों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। यह आर्थिक मदद मैं खुद पहुंचाऊंगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को देश के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले बंगाली नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

Updated : 31 Oct 2019 9:10 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top