Home > राज्य > अन्य > जेएनयू में छात्रों पर हमले ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी : उद्धव ठाकरे

जेएनयू में छात्रों पर हमले ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी : उद्धव ठाकरे

जेएनयू में छात्रों पर हमले ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी : उद्धव ठाकरे
X

मुंबई। जवाहर लाल नेहरू विश्विविद्यालय यानी जेएनयू में रविवार को हुई हिंसा पर शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की प्रतिक्रिया आई है। उद्धव ठाकरे ने जेएनयू छात्रों पर हुए हमले की तुलना 26/11 के मुंबई आतंकी हमले से की है। साथ ही उन्होंने महाराष्ट्र के छात्रों को आश्वस्त करते हुए कहा कि यहां उन्होंने कोई भी नुकसान नहीं पहुंचा सकता। गौरतलब है कि रविवार को जेएनयू में कुछ नकाबपोशों ने छात्रों और शिक्षकों पर हमला कर दिया था, जिसमें करीब 20 से अधिक घायल हो गये थे।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, जेएनयू हिंसा पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि जेएनयू के छात्रों पर हमले ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी। उन्होंने कहा कि जेएनयू में हमला करने वाले नकाबपोश हमलावर कायर हैं, उनकी पहचान का खुलासा होना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में छात्र सुरक्षित हैं, उन्हें नुकसान पहुंचाने की कोई कोशिश बर्दाश्त नहीं होगी। दरअसल, उद्धव ठाकरे मुंबई के बांद्रा स्थित मातोश्री पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे।

ठाकरे ने आगे कहा कि अगर सरकार को जरूरत महसूस होगी तो महाराष्ट्र के विश्वविद्यालय की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। महाराष्ट्र में छात्रों की सुरक्षा को दुरुस्त करने के लिए सरकार हर कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि यहां छात्रों का कोई कूछ भी नहीं बिगाड़ सकता। यहां तक कि कोई छू भी नहीं सकता।

इधर, जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय हिंसा के बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) ने कुलपति सहित विश्वविद्यालय प्रशासन को सोमवार को बैठक के लिए बुलाया। मंत्रालय ने रविवार को जेएनयू रजिस्टार प्रमोद कुमार से छात्रों और शिक्षकों पर हुए हमले के संबंध में तत्काल रिपोर्ट देने को कहा था।

जेएनयू के कुलपति एम. जगदीश कुमार ने कहा, '' पूरे घटनाक्रम की विस्तृत रिपोर्ट एचआरडी मंत्रालय को भेज दी गई है। मौजूदा स्थिति की विस्तृत जानकारी देने के लिए प्रशासन के शीर्ष अधिकारी मंत्रालय में मौजूद हैं।

गौरतलब है कि जेएनयू परिसर में रविवार रात उस वक्त हिंसा भड़क गयी थी, जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर हमला कर दिया था और परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था। इसके बाद प्रशासन को पुलिस को बुलाना पड़ा था। इस हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष सहित कम से कम 28 लोग घायल हुए हैं।

वाम नियंत्रित जेएनयूएसयू और आरएसएस से संबद्ध एबीवीपी इस हिंसा के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने जेएनयू छात्रों से विश्वविद्यालय की गरिमा बनाए रखने और परिसर में शांति बनाए रखने का आग्रह किया है।

Updated : 6 Jan 2020 11:16 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top