Top
Home > राज्य > पीएम बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए कुछ भी कर सकती है ममता : कैलाश विजयवर्गीय

पीएम बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए कुछ भी कर सकती है ममता : कैलाश विजयवर्गीय

पीएम बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए कुछ भी कर सकती है ममता : कैलाश विजयवर्गीय
X

कोलकाता। भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने शनिवार को दावा किया कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अवैध अप्रवासियों के मुद्दे पर अपना रुख बदल दिया है। एनआरसी का दुरुपयोग कर वह लोगों को विभाजित करने का प्रयास कर रही हैं, ताकी वे अपने प्रधानमंत्री बनने के सपने को पूरा कर सकें। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी 30 जुलाई को जारी किए गए असम में एनआरसी के पूर्ण मसौदे पर वोट बैंक की राजनीति करने के आरोप लगाया।

कैलाश विजयवर्गीय ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह शर्मनाक है कि एक मुख्यमंत्री केवल प्रधानमंत्री बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए लोगों को विभाजित करने की कोशिश कर रही है। संसद में वर्ष 2005 की एक घटना का जिक्र करते हुए, जब ममता बनर्जी एक तृणमूल कांग्रेस सांसद थी। विजयवर्गीय ने दावा किया कि उन्होंने बांग्लादेश से अवैध अप्रवासियों के मुद्दे पर अपना रुख बदल दिया है। उन्होंने कहा कि चार अगस्त 2005 को, ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में बांग्लादेशियों के अवैध प्रवासन के मुद्दे पर बात करने की अनुमति नहीं मिलने के बाद, लोकसभा में स्पीकर के मंच पर कागजात का एक गुच्छा फेंक दिया था।

उन्होंने आगे कहा कि हमें आश्चर्य है कि अचानक तृणमूल कांग्रेस ने 13 साल के भीतर अपना रुख बदल दिया। तृणमूल कांग्रेस को इसका जवाब देना चाहिए। वास्तव में यह वोट बैंक राजनीति के लिए किया गया था। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी पार्टी को इसके अलावा कुछ भी नहीं समझ आता है। वोट बैंक के लिए तृणमूल राष्ट्रीय सुरक्षा और अखंडता को भी दाव पर लगा सकती है।

Updated : 2018-08-05T02:40:13+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top