Top
Home > राज्य > कांग्रेसी विधायक के घर मिले चोरी के हथियार, एनआईए ने की गई छापेमारी

कांग्रेसी विधायक के घर मिले चोरी के हथियार, एनआईए ने की गई छापेमारी

कांग्रेसी विधायक के घर मिले चोरी के हथियार, एनआईए ने की गई छापेमारी
X

इंफाल। मणिपुर के साईखुल विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक यामथोंग हाओकिप को एनआईए ने गिरफ्तार कर लिया है। विधायक के मंत्रीपुखरी आवास पर नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) द्वारा की गई छापामारी के दौरान चोरी के 5 पिस्तौल बरामद होने के बाद मंगलवार की देर शाम उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इस गिरफ्तारी से मणिपुर के राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई है। कांग्रेस विधायक के घर पर एनआईए द्वारा छापेमारी राज्य सरकार के शस्त्रागार से गायब हुए 9 एमएम के 56 पिस्तौल के सिलसिले में हुई थी। इस छापामारी में चोरी के पांच पिस्तौल बरामद कर लिए गए। विधायक को गिरफ्तार करने के बाद एनआईए की टीम द्वारा इस संदर्भ में उनसे पूछताछ की जा रही है।

उल्लेखनीय है कि मणिपुर सरकार द्वारा 11 सितम्बर, 2014 को 9 एमएम की कुल 570 पिस्तौल खरीदी गई थी। ये पिस्तौल मणिपुर सरकार अपने सुरक्षा बलों को सौंपने वाली थी। लेकिन, सेकेंड मणिपुर राइफल्स के कमांडेंट पी मनजीत द्वारा की गई जांच के बाद पता चला था कि इसमें से नाइन एमएम की 56 पिस्तौल गायब है। इस संदर्भ में सेकेंड मणिपुर राइफल्स के कमांडेंट द्वारा थाने में एक मामला दर्ज कराया गया था। इन हथियारों की गुमशुदगी के संदर्भ में शक के आधार पर मणिपुर राइफल्स द्वारा पहले पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार लोगों में से दो मणिपुर राइफल्स के जवान तथा एक प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन कूकी का स्वयंभू सदस्य है। ज्ञात हो कि एनआईए की छापा मंगलवार की देर शाम चलता रहा।

उल्लेखनीय है कि घटना के सिलसिले में मणिपुर सरकार द्वारा चार वरिष्ठ पुलिस पदाधिकारियों को निलंबित किया गया था, जिनमें से एक आईपीएस अधिकारी भी है। निलंबित पुलिस अधिकारियों में से एक सब डिविजनल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ), एक थर्ड इंडिया रिजर्व बटालियन (आईआरबीएन) का सीओ तथा एक जीरीबाम जिला का अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक है।

कांग्रेस विधायक के घर पर एनआईए की टीम द्वारा की गई छापामारी के वक्त वहां उस समय बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी तथा अन्य लोग मौजूद थे। एनआईए की टीम द्वारा वहां मौजूद सभी लोगों की तलाशी ली गयी तथा विधायक के पूरे घर की तलाशी हुई। इस तलाशी के दौरान पांच पिस्तौल बरामद होने के कारण विधायक को गिरफ्तार कर लिया गया। इस पूरी घटना को लेकर मणिपुर के कांग्रेसी खेमे में हड़कंप मच गया है। कांग्रेसी नेताओं ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार राजनीतिक प्रतिशोध की वजह से इस प्रकार की कार्रवाई कर रही है। मंगलवार की देर शाम कांग्रेसी विधायक की हुई गिरफ्तारी के बाद इस पूरे मामले में नया मोड़ आ गया है।

Updated : 2018-08-01T20:54:18+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top