Top
Home > खेल > क्रिकेट > सचिन ने शेयर की बर्लिन की फोटो, गांगुली ने किया ट्रोल

सचिन ने शेयर की बर्लिन की फोटो, गांगुली ने किया ट्रोल

सचिन ने शेयर की बर्लिन की फोटो, गांगुली ने किया ट्रोल

नई दिल्ली। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरव गांगुली की दोस्ती काफी पुरानी है। दोनों ने मिलकर टीम इंडिया को कई खास जीत दिलाई हैं और अब इन दोनों के बीच सोशल मीडिया पर मजेदार नोक झोंक देखने को मिलती रहती है। सचिन तेंदुलकर को बर्लिन में आयोजित लॉरेस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवॉर्ड्स इवेंट में स्पोर्टिंग मूमेंट 2000-2020 का अवॉर्ड दिया गया। इसको लेकर सचिन तेंदुलकर ने एक पोस्ट इंस्टाग्राम पर शेयर की और सौरव गांगुली ने उन्हें ट्रोल कर दिया। तेंदुलकर की पोस्ट पर गांगुली का कमेंट वायरल हो गया है।

तेंदुलकर ने एक फोटो शेयर की, जिसमें वो बर्लिन में हैं। उन्होंने कैप्शन में लिखा, 'लॉरेस स्पोर्ट वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवॉर्ड्स के लिए बर्लिन में रहकर खुश हूं।' तेंदुलकर की इस फोटो पर गांगुली ने कमेंट में लिखा, 'तेंदुलकर मैं गलत नहीं था।' इससे पहले तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न से एक फोटो शेयर की थी, जिस पर गांगुली ने उन्हें ट्रोल किया था। तेंदुलकर ने मेलबर्न की फोटो शेयर करते हुए लिखा था, 'धूप का मजा लेते हुए।' जिस पर गांगुली ने कमेंट में लिखा था, 'किसी किसी का किस्मत अच्छा है... छुट्टी मनाते रहो।'

तेंदुलकर इस महीने ऑस्ट्रेलिया में बुशफायर चैरिटी मैच में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे। वो इस मैच में रिकी पोंटिंग XI टीम के कोच थे। तेंदुलकर ने भी गांगुली को उनके कमेंट का जवाब दिया था। तेंदुलकर ने लिखा था, 'वर्थवाइल हॉलीडे दादी... हम 10 मिलियन डॉलर जुटा सके।' बर्लिन में आयोजित लॉरेस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवॉर्ड्स इवेंट में तेंदुलकर के नाम का ऐलान किया गया। बता दें कि सचिन तेंदुलकर का नाम बेस्ट स्पोर्टिंग मूमेंट कैटेगरी में नॉमिनेट किया गया था।

तेंदुलकर सहित 20 दावेदार 2000 से 2020 तक के सर्वश्रेष्ठ लॉरेस खेल लम्हे की दौड़ में शामिल थे। भारत की 2011 विश्व कप में जीत के बारे में तेंदुलकर से जुड़े लम्हे को 'कैरीड ऑन द शोल्डर्स ऑफ ए नेशन' शीर्षक दिया गया था। लगभग नौ साल पहले तेंदुलकर अपने छठे विश्व कप में खेलते हुए विश्व खिताब जीतने वाली टीम के सदस्य बने थे।

भारतीय टीम के सदस्यों ने इसके बाद तेंदुलकर को कंधे में उठाकर मैदान का 'लैप ऑफ ऑनर' लगाया था और इस दौरान इस दिग्गज बल्लेबाज की आंखों से आंसू गिर रहे थे। भारत ने विश्व कप फाइनल में जीत तेंदुलकर के घरेलू मैदान मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में दर्ज की थी। लॉरेस अकैडमी के सदस्य ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेट कप्तान स्टीव वॉ ने तेंदुलकर के नॉमिनेशन को क्रिकेट के लिए शानदार लम्हा करार दिया है।





Updated : 18 Feb 2020 6:35 AM GMT

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top