Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > पाक पीड़ित हिन्दुओं को मिलें सुरक्षा व नागरिक अधिकार : प्रशांत हरतालकर

पाक पीड़ित हिन्दुओं को मिलें सुरक्षा व नागरिक अधिकार : प्रशांत हरतालकर

पाक पीड़ित हिन्दुओं को मिलें सुरक्षा व नागरिक अधिकार : प्रशांत हरतालकर

नई दिल्ली। विश्व हिन्दु परिषद ने पाकिस्तान द्वारा पीड़ित हिन्दुओं के धार्मिक, सामाजिक व मानवाधिकारों की रक्षा के साथ उन्हें नागरिक अधिकार प्रदान किए जाने की मांग की है। परिषद के विदेश विभाग के केंद्रीय मंत्री प्रशांत हरतालकर ने गुरूवार को प्रेस कान्फ्रेंस में मांग की कि भारत सरकार पाकिस्तान में बचे हिन्दुओं की रक्षा के लिए विश्व समुदाय पर दबाव बनाए। उन्होंने कहा कि आजादी से पहले जिस भू-भाग पर हिन्दू रहते थे, आजादी के बाद वह पाकिस्तान में चले जाने से वे पाकिस्तानी नागरिक बन गए। आज उनकी स्थिति बद से बदतर है। वे न तो जी सकते और न ही मर सकते।

प्रशांत ने कहा कि इस भू-भाग में आजादी के समय हिन्दुओं की जनसंख्या 16 प्रतिशत थी, जो घटकर दो या तीन प्रतिशत ही रह गई है। विभिन्न आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान की 20 करोड़ की अल्पसंख्यक आबादी में 60 से 70 लाख ही रह गई है। 92 प्रतिशत हिन्दू सिन्ध प्रांत में रहते हैं। जिनकी बच्चियों को जबरन हड़पकर धर्मा्रंतरण करवाया जाता है। वहां बलात्कार, मंदिरों की तोड़फोड़, अल्पसंख्यकों से जकात बसूली आम बात हो गई है। इसी कारण से वहां से सभी हिन्दू पाकिस्तान छोड़ने की बात कर रहे हैं। अब तक छह से दस लाख पीड़ित तो भारत आकर बस भी चुके हैं।

विश्व हिन्दू परिषद ने मांग की है कि भारत सरकार इस परिस्थिति को समझते हुए फौरन ठोस कदम उठाए। वह अन्तर्राष्टीय स्तर पर दबाव बनाए कि वहां अल्प संख्यकों को नागरिकता अधिकार प्रदान करे। दीर्घकालिक वीजा सहित अन्य कानूनी प्रक्रियाओं का सरलीकरण हो। पाकिस्तान में शेष बचे हिन्दुओं की रक्षा के लिए विश्वस्तरीय दबाव बनाया जाए। श्री प्रशांत ने बताया कि परिषद इस मसले पर सभी संासदों से मिलकर पाकिस्तान में रहे उन पर अत्याचारों के बारे में बताएगी। यह सांसद संपर्क अभियान 14 अगस्त तक चलाया जाएगा।

Updated : 27 Jun 2019 4:15 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top