Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > बनारस को क्योटो और गंगा को निर्मल बनाने में असफल रहे मोदी : कांग्रेस

बनारस को क्योटो और गंगा को निर्मल बनाने में असफल रहे मोदी : कांग्रेस

बनारस को क्योटो और गंगा को निर्मल बनाने में असफल रहे मोदी : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने गुरुवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बनारस की जनता की सेवा, गंगा मां को स्वच्छ और अविरल बनाने के संकल्प पूरा करने में असफल रहे हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने पार्टी मुख्यालय में पत्रकार वार्ता में कहा कि नरेन्द्र मोदी ने काशी के साथ विश्वासघात किया। उन्होंने कहा कि 2014 में भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली ने एक संकल्प पत्र निकाला था, जिसे विजन डॉक्यूमेंट कहा गया और बनारस को क्योटो में बदलने की बात कही गई। हथकरघा उद्योग को बेहतर बनाने और घाटों का उद्धार करने की बातें कही गईं। ये सारी बातें कथनी और करनी में अंतर साबित हुई।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि नमामि गंगे के 70 प्रतिशत से ज्यादा कार्य शुरू ही नहीं हो पाए। स्वीकृत धनराशि के 80 प्रतिशत हिस्से का प्रयोग नहीं हुआ। विश्वनाथ कॉरीडोर बनाने के क्रम में सैकड़ों मकानों के साथ-साथ प्राचीन मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया गया। स्मार्ट सिटी बनाने के लिए 2,268 करोड़ रुपये की धनराशि आवंटित की गई, जिसमें से मोदी मात्र 196 करोड़ रुपये खर्च कर पाए। बनारस से सासंद ने बुनकरों और हथकरघा उद्योग को सुदृढ़ एवं मजबूत बनाने की बात की थी। उनकी स्थिति अब दयनीय हो गई है। सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत प्रधानमंत्री ने चार गांवों को गोद लिया था। जून,2018 में एक आरटीआई द्वारा पता चला कि प्रधानमंत्री के फण्ड से एक रुपया भी इन गांवों के विकास के लिए खर्च नहीं किया गया।

Updated : 25 April 2019 1:42 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top