Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > कोरोना : एफआईआर के बाद मौलाना साद के बदले सुर कहा - मैं आइसोलेशन में हूँ , आप भी इलाज में सहयोग करें ...

कोरोना : एफआईआर के बाद मौलाना साद के बदले सुर कहा - मैं आइसोलेशन में हूँ , आप भी इलाज में सहयोग करें ...

कोरोना : एफआईआर के बाद मौलाना साद के बदले सुर कहा - मैं आइसोलेशन में हूँ , आप भी इलाज में सहयोग करें ...

नईदिल्ली। तबलीगी जमात के मौलाना साद के खिलाफ पुलिस केस दर्ज होने के बाद जमात के लापता सुर बदल गए है। जो कल तक जमात के लोगों को मस्जिद से अच्छी मौत कहीं नहीं का पाठ पढ़ा रहे थे । वह आज खुद कोरोना संक्रमण से डर गए है। आज मौलाना साद का एक नया ऑडियो संदेश सामने आया है। जिसमें मौलाना साद अपने लोगों से कह रहा है की वह वर्तमान में दिल्ली में ही है और डॉक्टर की सलाह के बाद आइसोलेशन में है। इसी के साथ वह अपने जमात के लोगों को संदेश दे रहे है की जमती सरकार की मदद करें और तबियत खराब होने पर डॉक्टरों के पास जाना शरीयत के मुताबिक गलत नहीं है।

तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद की यह ऑडियो क्लिप उनके यूट्यूब पेज पर है। आज सुबह जारी किये इस ऑडियो में उसने जमात में शामिल हुए लोगों से डॉक्टर की सलाह मानने एवं इलाज में सहयोग देने के लिए कहा है।इसी के साथ लोगों से भीड़ एकत्र करने के लिए मना करने के साथ तबियत खराब होने पर डॉक्टरों से इलाज कराने की सलाह लेने को कहा है।इससे पहले भी मौलाना का एक वीडियो सामने आया था। जिसमें वह लोगों से कह रहा था की डॉक्टर्स, सरकार अफवाह फैला रहे है की मस्जिद में एकत्र होने से कोरोना से मौत हो सकती है,। इस वीडियो में आगे कहा था कि यदि मस्जिद में मौत होती भी है तो इससे बेहतर कुछ नहीं होगा।

दरअसल, जमात में शामिल हुए लोग देशभर में विभिन्न स्थानों पर पहुंच चुके है। सभी राज्य सरकारें अपने राज्यों में पहुंचे जमात के लोगों की तलाश कर आइसोलेट करने का कार्य कर रहीं हैं। अब तक देशभर में सभी स्थानों पर यह लोग स्वास्थ्य कर्मियों को परेशान कर रहे है। अब मौलाना के इस बयान के सामने आने के बाद उम्मीद है की ये लोग इलाज में सहयोग करेंगे। देश के कई राज्यों में पहुंचे जमात के लोग संक्रमित मिले है। जिसके कारण केंद्र सरकार, राज्य सरकारें और स्थानीय प्रशासन बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित होने की आशंका से परेशान है।

साद के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने लॉकडाउन नियमों का उललंघन करने के आरोप में केस दर्ज किया है। जिसके बाद क्राइम ब्रांच द्वारा दिल्ली और उत्तरप्रदेश के कई हिस्सों में छापे मारे गए है। बताया जा रहा है की आरोप है कि उसके दिल्ली स्थित निजामुद्दीन एवं जाकिर नगर सहित उसके तीन आवासों पर छापेमारी की गई है।

साद पर आरोप है की उसने केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा लागो किये गए नियमों का उल्लंघन करते हुए मरकज में भीड़ को एकत्र कर धार्मिक सभा का आयोजन किया। इस धार्मिक सभा में शमिल होने के लिए विदेशों से भी कई लोग आये थे। जिनके संपर्क में आने से जमात में शामिल हुए लोग कोरोना से संक्रमित हो गए है। यह लोग मरकज में संक्रमित होने के बाद देश के विभिन्न हिस्सों में पहुँच गए है। मरकज में शामिल हुए लोगों में से अबतक 358 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। बड़ी संख्या में जमातियों के संक्रमित मिलने से देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2 हजार से अधिक हो गई है।


Updated : 2020-04-03T11:57:55+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top