Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने का श्रेय न ले मोदी सरकार : कांग्रेस

मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने का श्रेय न ले मोदी सरकार : कांग्रेस

मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने का श्रेय न ले मोदी सरकार : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने गुरुवार को कहा कि मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कराने की एक सतत प्रक्रिया पिछले 15 साल से चल रही है। इसके लिए किसी एक सरकार को श्रेय लेने की आवश्यकता नहीं है।

कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने दिल्ली में प्रेसवार्ता कर कहा कि मोदी सरकार हर मामले में श्रेय लेने को आतुर रहती है। इससे पहले हाफिज सईद को संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के समय वैश्विक आतंकी घोषित किया गया था। इसके अलावा आतंकी जकीउर रहमान लखवी, हाजी मोहम्मद अशरफ़, मोहम्मद अहमद बहज़ीक को कांग्रेस के समय वैश्विक आतंकी घोषित किया गया था।

उन्होंने कहा कि मसूद अज़हर सुरक्षा बलों के कब्ज़े में था। कांग्रेस सरकार ने उसको गिरफ्तार कराया था, जिसे भाजपा सरकार ने छोड़ दिया था। भाजपा यह बात छिपाती है। कांग्रेस ने जैश-ए-मोहम्मद संगठन को संयुक्त राष्ट्र संघ से आतंकी संगठन घोषित कराया था लेकिन पार्टी ने कभी इसका श्रेय नहीं लिया।

शुक्ला ने कहा कि पाकिस्तान कह रहा है कि ये उसकी कूटनीतिक जीत है। मसूद को आतंकवादी घोषित करते समय कश्मीर और पुलवामा हमले का जिक्र नहीं है। कांग्रेस पाकिस्तान के इस बयान की कड़ी निंदा करती हैं। पाकिस्तान सरकार को इस आतंकी की तमाम गतिविधियों पर ईमानदारी और सच्चाई के साथ रोक लगानी चाहिए।

कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने कहा कि मजबूत नेतृत्व की बात करने वाली सरकार सुरक्षा के क्षेत्र में विफल रही है। गढ़चिरौली में देश के 15 सपूतों का शहीद होना दुःखद है। यह मोदी सरकार की खुफिया विफलता दर्शाती है। सरकार जिस क्षेत्र के नक्सल मुक्त होने का दावा कर रही है, आखिर वहां इस तरह की घटनाएं कैसे हो रही है? पिछले 5 सालों में 1086 नक्सली हमलों में 351 जवान शहीद हुए और 582 नागरिक मारे गए है। फिर भी संवेदनहीन मोदी सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंगी।

उन्होंने कहा कि गढ़चढ़ौली हमले की जिम्मेदारी लेते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फणनवीस को इस्तीफा देना चाहिए। इस नक्सल हमले में गृह मंत्रालय की भी विफलता रही है।

Updated : 2 May 2019 10:40 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top