Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > जेएनयू हिंसा पर सीएम केजरीवाल बोले - दिल्ली पुलिस का कोई दोष नहीं

जेएनयू हिंसा पर सीएम केजरीवाल बोले - दिल्ली पुलिस का कोई दोष नहीं

जेएनयू हिंसा पर सीएम केजरीवाल बोले - दिल्ली पुलिस का कोई दोष नहीं

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) हिंसा मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली पुलिस का बचाव करते हुए कहा है कि जब ऊपर से हिंसा नहीं रोकने का आदेश मिलता है तो वो बेचारे क्या करें। उन्होंने कहा कि जो कुछ घटनाक्रम चल रहा है तो इसमें दिल्ली पुलिस का दोष नहीं है। आप दिल्ली पुलिस के सिपाहियों को बोलेंगे कि उधर मारपीट होने दो अंदर मत जाना। वो अंदर जाएगा तो उसे तो सस्पेंड कर देंगे। आपको बता दें कि जेएनयू में हुई हिंसा के खिलाफ गुरुवार को छात्रों का मार्च एचआरडी मंत्रालय की ओर बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि अगर उसको ऊपर से आदेश आता है कि हिंसा रोको तो वो अपनी जान की बाजी लगाकर उसे रोकते है। अगर उन्हें आदेश आता है हिंसा होने दो और होने के बाद उन्हें निकलने दो तो वो हिंसा के बाद अंदर जाते हैं। आज अगर दिल्ली पुलिस को आदेश दो कि शहर की कानून व्यवस्था को ठीक करना है चोरियां और बलात्कार नहीं होने चाहिए। ऊपर से आदेश आता है कि हिंसा रोकनी नहीं है और कानून व्यवस्था ठीक नहीं करनी है तो वो बेचारे क्या करेंगे।

वहीं केजरीवाल का कहना है कि इस चुनाव में लोग दिल्ली के भविष्य और अपने परिवार के बारे में सोच रहे हैं और अपनी निजी राजनीतिक पसंद से ऊपर उठकर आप का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने ट्वीट किया है, ''दिल्ली में कुछ अलग सा हो रहा है। इस चुनाव में लोग अपनी निजी राजनीतिक पसंद से ऊपर उठकर दिल्ली के भविष्य और अपने परिवार के बारे में सोच रहे हैं। चुनावों के दौरान विभाजनकारी राजनीति देखने को मिलती है लेकिन किसने सोचा था कि यह लोगों को एकजुट कर देगी। उन्होंने इसके साथ एक महिला का पोस्ट भी साझा किया है जिसमें उसने लिखा है कि कैसे उसके भाजपा समर्थक पिता आम आदमी पार्टी (आप) का साथ दे रहे हैं। दिल्ली में विधानसभा चुनावों के लिए मतदान आठ फरवरी को और गिनती 11 फरवरी को होनी है।

Updated : 9 Jan 2020 11:47 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top