Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > छात्र जीवन सर्वश्रेष्ठ, परिश्रम करना न छोड़े

छात्र जीवन सर्वश्रेष्ठ, परिश्रम करना न छोड़े

छात्र जीवन सर्वश्रेष्ठ, परिश्रम करना न छोड़े
X
*File Pic

इंदौर। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के सभागार में शनिवार को कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव की पहल पर बने युवा शास्त्र मोबाइल एप की समारोहपूर्वक लॉन्चिंग की गई। उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने इस अवसर पर इस पहल को सराहा। उन्होंने कहा कि छात्र जीवन सर्वश्रेष्ठ होता है, पर विद्यार्थियों को अपना लक्ष्य निर्धारित कर परिश्रम करना नहीं छोडऩा चाहिये। आईआईएम इंदौर के डायरेक्टर प्रो. हिमांशु राय, क्रिकेटर अमय खुरासिया और कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने इस अवसर पर युवाओं को उपयोगी मार्गदर्शन दिया। कार्यक्रम में सीईओ जिला पंचायत नेहा मीना, राकेश जैन, सदाशिव यादव, डॉ. एके द्विवेदी सहित अन्य वरिष्ठ नागरिक, प्राध्यापकगण, युवा और विद्यार्थी उपस्थित थे।

युवा शास्त्र मोबाइल एप को मंत्री जीतू पटवारी ने युवाओं के कॅरियर संबंधी मार्गदर्शन के लिये एक उपयोगी प्लेटफार्म बताया। उन्होंने कहा कि इंदौर में पूरे प्रदेश सहित देश के विभिन्न राज्यों के युवा आते हैं। इन सभी को उच्च शिक्षा और कॅरियर संबंधी मार्गदर्शन के लिये एक अच्छा मंच उपलब्ध हो रहा है। उन्होंने युवाओं से कहा कि वे अपने लक्ष्य को निर्धारित कर दृढ़ निश्चय के साथ परिश्रम करते रहें, सफलता एक दिन अवश्य कदम चूमेगी। उन्होंने स्वयं का उदाहरण देते हुए कहा कि इसी विश्वविद्यालय परिसर में उन्होंने 24 वर्ष की आयु में राजनीति में आने का लक्ष्य निर्धारित किया था। प्रारंभिक दो चुनाव हारने के बाद भी उन्होंने प्रयास निरन्तर रखा और आज इस रूप में विश्वविद्यालय परिसर में उपस्थित हैं। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे भी अपना एक लक्ष्य निर्धारित कर उसका निरन्तर पीछा करें।

कार्यक्रम में आईआईएम के डायरेक्टर प्रो. हिमांशु राय ने अपने सारगर्भित उद्बोधन में युवाओं को सफलता के मंत्र बताये। उन्होंने कहा कि जीवन में एक उद्देश्य होना आवश्यक है। उन्होंने ऐलिस इन वन्डरलैण्ड का उद्धहरण देते हुए कहा कि एक अजनबी दुनिया में ऐलिस के सामने अनेक रास्ते थे। उसे रास्तों की उलझन पर यह सलाह मिली कि आगे बढऩे के लिये गंतव्य का निर्धारण जरूरी है। गंतव्य निर्धारित होने पर किसी भी राह पर चलकर मंजिल हासिल की जा सकती है। ठीक इसी प्रकार युवा भी अपना लक्ष्य निर्धारित करें और उसे हासिल करें। प्रो. राय ने इसके साथ ही लक्ष्य हासिल करने के लिये उमंग और दृढ़ इच्छाशक्ति को आवश्यक बताया।

क्रिकेटर अमय खुरासिया ने युवा शास्त्र को एक अच्छा प्रयास बताया। उन्होंने कहा कि परिस्थितियाँ कैसी भी हो, युवाओं को जीवन में संघर्ष करना आना चाहिये। संघर्ष करते हुए आप किसी भी क्षेत्र में सफल हो सकते हैं।

कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने कहा कि इंदौर में बढ़ी संख्या में युवा वर्ग है। प्रतिभा और योग्यता की कोई कमी नहीं है। अगर उन्हें सही मार्गदर्शन मिले तो जीवन की राह आसान हो सकती है। इसी उद्देश्य के साथ युवा शास्त्र एप बनाया गया है। इसमें सिविल सेवा, बैंकिंग, पत्रकारिता, चिकित्सा सहित अन्य 10 विषयों पर विशेषज्ञ मेंटर बनाये गये हैं। इनसे युवा इस एप के माध्यम से मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं। मोबाइल एप बनाने वाले राकेश जैन ने कहा कि इस एप के माध्यम से एक टेक्नोलॉजिकल प्लेटफार्म युवाओं को मिल रहा है। विभिन्न विधाओं के विशेषज्ञ मार्गदर्शन के लिये इसके माध्यम से सुलभ रहेंगे। उनकी मेधा, ज्ञान और अनुभव इस प्लेटफार्म के जरिये युवाओं के लिये सुलभ रहेगा। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में युवा और विद्यार्थीगण उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि युवा शास्त्र तकनीक के माध्यम से स्कूल कॉलेज के विद्यार्थियों के साथ ही अपना कॅरियर सही दिशा में बनाने में युवाओ को मार्गदर्शन देने का अनूठा प्रयास हैं। इस एप के माध्यम से हर विद्यार्थी युवा अलग अलग विधाओं में महारथ रखने वाले अनुभवी स्थापित मेंटर्स से अपना सवाल पूछ कर मार्गदर्शन पा सकेंगे। इस्तेमाल में बहुत ही आसान ये युवा शास्त्र एप इंदौर जिला प्रशासन द्वारा अभी एंड्राइड प्लेटफार्म पर उपलब्ध कराया गया हैं। इसके उपयोग और युवाओं की प्रतिक्रिया को देखते हुए जल्द ही इसे आई-फोन के लिए भी उपलब्ध करवाया जाएगा।

Updated : 9 March 2019 2:55 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top