Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > झमाझम बारिश के बाद इंदौर के यशवंत सागर के खोले गये गेट

झमाझम बारिश के बाद इंदौर के यशवंत सागर के खोले गये गेट

झमाझम बारिश के बाद इंदौर के यशवंत सागर के खोले गये गेट

इंदौर। मानसून की शुरुआत के बाद जिस झमाझम बारिश का नजारा शहरवासियों को देखना था, वह गुरुवार की देर रात हुई। कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश के चलते जिले के बाकी तालाबों में छोटे और बड़े सिरपुर की ही स्थिति अच्छी है। अच्छा पानी गिरने की वजह से शहर के तालाबों में सबसे पहले यशवंत सागर फुल हो गया। 19 फीट की क्षमता है, लेकिन रात तक 19 फीट 5 इंच पानी तालाब में जमा हो गया। इसकी जानकारी यहां पर तैनात निगम के कर्मचारियों ने जलकार्य समिति प्रभारी बलराम वर्मा को दी। स्थिति को देखते हुए आज तड़के 4 बजे तीन गेट खोलने का फैसला लिया गया। जैसे ही गेट खोले गए, वैसे ही मनोहारी दृश्य नजर आने लगा। 19 फीट लेबल आने पर गेट बंद कर दिए गए।

इन तालाबों में यह है स्थिति

यशवंत सागर के अलावा सिर्फ छोटा व बड़ा सिरपुर ही है, जहां पर पानी क्षमता के नजदीक पहुंच पाया है। बड़ा सिरपुर में 16 फीट की क्षमता है, जिसमें 12.1 फीट पानी भराया, तो छोटे सिरपूर की 13 फीट क्षमता है, जिसमें 11.8 फीट पानी भर गया। इसके अलावा बड़ा बिलावली में 34 फीट की क्षमता है, जिसमें मात्र 17 फीट ही पानी जमा हुआ है। छोटी बिलावली तो बिलकुल खाली है। पिपल्यापाला में 22 में से 11 फीट, लिंबोदी में 16 में से 4.6 फीट पानी भर पाया है। बिलावली तालाब में पानी कम भराने के पीछे सबसे बड़ी वजह चैनलों का बंद होना है, जहां से पानी आता था।

मौसम विभाग का अलर्ट

इंदौर में शुक्रवार भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक अभी जबलपुर और उमरिया के बीच एक अवदाब का क्षेत्र है। इसके अलावा मानसून टर्फ राजगढ़, जबलपुर, उमरिया होते हुए बंगाल की खाड़ी की ओर जा रहा है। आज रात तक इंदौर में अति वर्षा हो सकती है।

Updated : 2019-08-09T17:30:25+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top