Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > जेल से रिहा होने के बाद आकाश विजयवर्गीय ने कहा - दोबारा बल्लेबाजी का मौका नहीं दे

जेल से रिहा होने के बाद आकाश विजयवर्गीय ने कहा - दोबारा बल्लेबाजी का मौका नहीं दे

जेल से रिहा होने के बाद आकाश विजयवर्गीय ने कहा - दोबारा बल्लेबाजी का मौका नहीं दे

इंदौर। भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय जेल से रिहा होने के बाद कहा है कि वे अपने क्षेत्र और जनता की बेहतरी के लिए काम करते रहेंगे। कारावास में उनका समय अच्छा गुजरा। आपको बताते जाए कि उन पर इंदौर नगर निगम के अधिकारी को बल्ले से पीटने का आरोप है। उनको शनिवार को जमानत मिली थी, लेकिन कागजी प्रक्रिया पूरी नहीं होने के कारण आज सुबह आकाश जेल से बाहर आए। आकाश भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं।

भाजपा के बड़े नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने जेल से बाहर आते ही कहा कि जेल में उनका समय अच्छी तरह गुजरा। वे अपने क्षेत्र में और जनता की भलाई के लिए अच्छा काम करते रहेंगे।जनता की सेवा करते रहेंगे। आकाश विजयवर्गीय ने कहा कि जब महिलाओं को पुलिस के सामने घसीटा जा रहा हो, तो मैं कतई बर्दाश्त नहीं कर सकता हूं। अधिकारी जनता, खासकर महिलाओं का सम्मान करें और उनकी समस्याओं को सुनें। मुझको अपने किए पर कोई शर्मिंदगी नहीं है। हालांकि अब हम गांधी के रास्ते पर चलने का प्रयास करेंगे, लेकिन मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वो दोबारा बल्लेबाजी करने का अवसर नहीं दे।

उल्लेखनीय है कि आकाश विजयवर्गीय को भोपाल की विशेष अदालत से जमानत मिली थी। 26 जून को इंदौर नगर निगम के अधिकारी को बल्ले से पीटने के आरोपी आकाश विजयवर्गीय पर उसी दिन मुकदमा दर्ज हुआ था और उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

Updated : 30 Jun 2019 8:40 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top