Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > पढ़ाई के लिए नहीं मिलती डेडबॉडी, डॉक्टर डमी और स्लाइड्स के भरोसे कर रहे हैं पढ़ाई

पढ़ाई के लिए नहीं मिलती डेडबॉडी, डॉक्टर डमी और स्लाइड्स के भरोसे कर रहे हैं पढ़ाई

आयुर्वेद कॉलेज को 12 साल से मिले सिर्फ चार शव, मेडिकल कॉलेज और सीएमएचओ नहीं कर रहे सहयोग

पढ़ाई के लिए नहीं मिलती डेडबॉडी, डॉक्टर डमी और स्लाइड्स के भरोसे कर रहे हैं पढ़ाई
X

ग्वालियर । शासकीय आयुर्वेद महाविद्यालय को शिक्षण कार्य के लिए पिछले 12 साल में सिर्फ चार शव ही मिले हैं। शव नहीं होने के कारण आयुर्वेद महाविद्यालय के छात्रों को एनाटॉमी की पढ़ाई डमी, स्लाइड्स और चित्रों में माध्यम से करना पड़ रही है। शव नहीं होने के कारण छात्रों को मानव शरीर की संरचना की ठीक से जानकारी नहीं हो पा रही है, जबकि महाविद्यालय प्रशासन शव के लिए गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से लेकर आयुष विभाग के आला अधिकारियों से कई बार मांग कर चुका है। उसके बाद भी महाविद्यालय को शव उपलब्ध नहीं हो पा रहे ।

दरअसल चिकित्सा महाविद्यालय एवं आयुर्वेद महाविद्यालयों के छात्रों को पढ़ाई के लिए शव की आवश्यकता होती है। अस्पतालों में आने वाले लावारिस शव के साथ-साथ मरणोपरांत देहदान करने वालों के शव इस उपयोग में लाए जाते हैं। सेंट्रल काउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसिन (सीसीआईएम) के स्पष्ट निर्देश हैं कि साल में आयुर्वेद महाविद्यालय को कम से कम हर साल दो शव शिक्षण कार्य के लिए आना चाहिए, लेकिन आमखो स्थित शासकीय आयुर्वेद महाविद्यालय को 15 साल से सिर्फ चार शव ही मिले हैं। इसमें वर्ष 2016 में दो और वर्ष 2017 में दो कुल चार शव मिले। इतना ही नहीं 2017 में जो शव मिले थे, वह डिफेक्टेड थे, जिनका पढ़ाई के लिए उपयोग भी ठीक से नहीं किया जा सका। यह स्थित तब है, जब आयुष विभाग के यह आदेश हैं कि आयुर्वेद महाविद्यालय शव के लिए चिकित्सा महाविद्यालय या सीएमएचओ से मांग कर सकता है। इस कारण छात्रों के शिक्षण कार्य के लिए महाविद्यालय प्रशासन अस्पताल में रखी पुरानी हड्डियां, स्लाइड्स, डमी और चित्रों का सहारा ले रहे हैं। महाविद्यालय प्रशासन का कहना है कि इस वर्ष एक भी शव उन्हें नहीं मिला है, जबकि इसके लिए कई बार पत्र भी लिखे जा चुके हैं। शव न होने के कारण छात्रों को पढ़ाई में परेशानी आती है।

इनका नहीं मिल पा रहा ठीक से ज्ञान

* शरीर की संरचना कैसी होती है।

* नसों का क्या योगदान है और वह कैसे कार्य करती हैं।

* शरीर में विभिन्न अंगों की स्थिति क्या रहती है।

* दिमाग की संरचना कैसी होती है और वह कैसे कार्य करता है।

* हार्ट की क्या स्थिति होती है और वह कैसे कार्य करता है।

Updated : 2018-08-12T23:21:02+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top