Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > फैक्ट्री के ताले तोडक़र घुसे अधिकारी, पकड़ा तम्बाकू का जखीरा

फैक्ट्री के ताले तोडक़र घुसे अधिकारी, पकड़ा तम्बाकू का जखीरा

कई हजार किलो तम्बाकू जब्त, अवैध रूप से हो रहा था संचालन

फैक्ट्री के ताले तोडक़र घुसे अधिकारी, पकड़ा तम्बाकू का जखीरा

ग्वालियर, न.सं.। शहर में पहली बार प्रशासनिक अधिकारियों ने तम्बाकू कारोबारियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए बड़ी मात्रा में तम्बाकू का जखीरा जब्त किया है। कार्रवाई में अवैध रूप से संचालित फैक्ट्री में कई बोरे तम्बाकू मिले, जिसकी कीमत लाखों में बताई जा रही है।


एसडीएम जयति सिंह को शिकायत मिली थी कि गिरवाई थाना क्षेत्र के काली माता मंदिर के पास अवैध रूप से तम्बाकू फैक्ट्री संचालित हो रही है। इस पर एसडीएम दल बल के साथ मौके पर जा पहुंची, लेकिन फैक्ट्री के मुख्य द्वार पर बाहर से ताला लगा हुआ था। जबकि अंदर कुछ कर्मचारियों के काम करने की आवाज आ रही थी। एसडीएम ने गेट खोलने के लिए कई बार गेट खटखटाएं, लेकिन अंदर बैठे कर्मचारियों ने एक न सुनी। इस पर पटवारी रिपुदमन बगल में ही बनी एक ऑयल मील की छत से फैक्ट्री की छत पर कूंदे और अंदर पहुंचे, अंदर पहुंचते ही उन्होंने देखा कि 5 से 6 कर्मचारी काम कर रहे हैं, इसके बाद पटवारी ने फैक्ट्री के गेट खुलवाए और एसडीएम जयति सिंह अंदर पहुंची। जांच के दौरान फैक्ट्री में 2000 किलो खुली पत्ती तम्बाकू जिसमें 35 किलो के 1000 कट्टे खुली पत्ती के अलावा पान मसाला के 35 किलो के 1100 कट्टे बरामद किए। जबकि कपूर, चार अलग-अलग प्रकार के एसेंस सहित कई लीटर कैमिकल भी रखा हुआ मिला।

एसडीएम ने जब जांच पड़ताल की तो सामाने आया कि फैक्ट्री में बिना लाइसेंस के ही तम्बाकू का निर्माण किया जा रहा था, साथ ही फैक्ट्री का भी कोई पंजीयन नहीं मिला। जबकि फैक्ट्री पर किसी भी तरह का बोर्ड भी नहीं लगा हुआ था। मौके पर मौजूद फैक्ट्री के प्रबंधक निखिल सेजवानी ने फैक्ट्री का नाम पराग इंटरनेशनल संचालक श्याम लाल भोजवानी बताया। इतना ही नहीं एसडीएम ने फैक्ट्री संचालक का करीब दो घंटे तक इंतजार भी किया, लेकिन वह नहीं आया और उसने अपने रिश्तेदार पहुंचा दिए। जिसको लेकर एसडीएम ने रिश्तेदारों को जमकर फटकार भी लगाई। कार्रवाई के दौरान फैक्ट्री से तम्बाकू सहित कैमिकल के सात नमूने लेकर फैक्ट्री को सील कर दिया गया।

ताला तोड़ घुसे अंदर, संचालक ने किया फोन बंद

दूसरी ओर एडीएम रिंकेश वैश्य एवं एसडीएम पुष्पा पुषाम की टीम ने यातायात नगर में तम्बाकू कारोबारियों पर कार्रवाई की। टीम सबसे पहले अनूप गुप्ता की गुटखा फैक्ट्री में पहुंची, यहां टीम को मुख्य द्वार पर ताला लगा हुआ मिला।

इस पर एडीएम ने पड़ौस से संचालक का नम्बर लेकर फोन किया और मौके पर बुलाया गया। लेकिन आधे घंटे इंतजार करने के बाद जब संचालक नहीं आया तो एडीएम ताला तुड़वाकर अंदर पहुंचे। जहां फैक्ट्री के एक कमरे में जरदा जाफरानी नाम से गुटखा के तीस बोरे रखे हुए मिले, साथ ही एक कमरे में दो मशीने भी लगी हुई थीं। इस पर एडीएम ने दुबारा फैक्ट्री संचालक को फोन किया तो उसने दो मिनट में आने की बात कहते हुए फोन बंद कर लिया। इस पर एडीएम ने फैक्ट्री में रखे गुटखा का नमूना करा कर फैक्ट्री को सील कर दिया। इसी तरह तीसरी कार्रवाई में मनीष गुप्ता के यहां यातायात नगर पार्किंग नम्बर 6 में संचालित सेठी ब्रदर्स के यहां हुई। यहां खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने सेठजी इलायची, सेठजी चंदन सुपारी, सहित पांच नमूने लिए। साथ ही गंदगी को लेकर नोटिस भी दिया।


Updated : 2019-12-24T06:00:41+05:30

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top