Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > बेल्जियम से आए तीन सदस्यीय दल ने किया शहर का निरीक्षण

बेल्जियम से आए तीन सदस्यीय दल ने किया शहर का निरीक्षण

दल के सदस्यों ने कहा, मोतीमहल एक ऐतिहासिक इमारत है, इसे संरक्षित करने की जरूरत, महापौर से की मुलाकात

ग्वालियर। यहाँ ऐतिहासिक इमारतें विशेष है, जिन्हें संरक्षित कर भविष्य में लोगों के उपयोग के लिए काम में लाया जा सकता है। यह बात शहर के भ्रमण पर निकले बेल्जियम के ल्यूबिन सिटी से आए तीन सदस्यीय दल ने मोतीमहल स्थित स्मार्ट सिटी योजना के तहत् कंट्रोल कमांड सेंटर के निरीक्षण के दौरान नगर निगम के अधिकारियों से कही।

ग्वालियर आये इस तीन सदस्यीय दल ने निरीक्षण कर शहर के हैरिटेज बिल्डिंगों में संरक्षण को जानने, पार्किंग-आवास योजनाओं के क्रियान्वयन पर विशेष ध्यान दिया। ल्यूबिन से आए ग्रीट नोडल पेशन, वेरोनिक्स व स्टिन हेक ने निगम नोडल अधिकारी शिशिर श्रीवास्तव के साथ निरीक्षण किया। जिसमें उन्होंने महाराज बाड़े पर मुगलकालीन, यूरोपियन व इटालियन पद्धति से बने भवनों के इतिहास व स्मार्ट सिटी योजना में होने वाले विकास कार्यों की जानकारी लेने के साथ ही वहां अंडर ग्राउण्ड पार्किंग सहित अन्य विकास कार्यों की जानकारी ली। इसके अलावा यातायात व्यवस्था सुधार के लिए जल्द ही योजना बनाकर देने की पेशकश की।

हमारे यहां कैसे हो सकता है निर्माण

भ्रमण के दौरान दल सदस्यों में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत् बनने वाले आवासों को लेकर विशेष रूचि दिखई दी। जिसके चलते तीनों सदस्य आपस में यह चर्चा करते हुए दिखाई दिए कि यह योजना ल्यूबिन में भी शुरू की जा सकती है।

महापौर ने दिया स्मृति चिन्ह

भ्रमण के बाद शाम को दल में शामिल तीनों सदस्यों ने महापौर विवेक नारायण शेजवलकर से भेंट की। इस दौरान उन्होंने महापौर श्री शेजवलकर को बताया कि ग्वालियर बहुत ही सुंदर शहर है और यहां की ऐतिहासिक इमारत को संरक्षित करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक इमारतों पर जो कार्य किए जा रहे हैं, उन्हें रोकना चाहिए। इस मौके पर महापौर श्री शेजवलकर ने तीनों सदस्यों को स्मृति चिनह देकर सम्मानित किया।








Updated : 2018-11-03T20:47:22+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top