Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर : होली से पहले आरपीएफ की ताबड़तोड़ कार्रवाई, चार जगह मारे छापे

ग्वालियर : होली से पहले आरपीएफ की ताबड़तोड़ कार्रवाई, चार जगह मारे छापे

अपनी निजी यूजर आईडी से बना रहे थे रेल यात्रा के आरक्षित टिकट

ग्वालियर : होली से पहले आरपीएफ की ताबड़तोड़ कार्रवाई, चार जगह मारे छापे
X

ग्वालियर, न.सं.। निजी आईडी से व्यावसायिक रेल टिकट बनाने का खेल इन दिनों जोरों पर है। होली के त्यौहार से ठीक पहले आरपीएफ ने शहर के विभिन्न स्थानों पर आरक्षित टिकट बनाने का अवैध कारोबार करने वालों के याहां छापामार कार्रवाई की है। आरपीएफ की कार्रवाई से सुबह से शाम तक हड़कंप मचा रहा।

होली में यात्रियों की भीड़ के साथ ही तत्काल टिकट की मांग भी बढ़ जाती है। इसी का फायदा उठाकर दलाल फर्जी तरीके से निजी आईडी बनाकर तत्काल टिकट जारी कर देते हैं। जबकि निजी आईडी से किसी भी दूसरे यात्री के लिए टिकट जारी नहीं किया जा सकता।

बुधवार को आरपीएफ ने शहर में तीन जगह छापा मार कार्रवाई की। वहीं एक कार्रवाई सबलगढ़ में की गई। पहली कार्रवाई गांधी नगर स्थित माय ट्रेवल्स एक्सिस के यहां छापा मारा। जहां से पूर्व यात्रा के 204 टिकट बरामद कर संचालक उदित चतुर्वेदी पुत्र महेंद्र चतुर्वेदी उम्र 32 वर्ष को गिरफ्तार किया है। वहीं जीवाजीगंज स्थित जय मां मोबाइल सेंटर में छापामार कर संचालक राजीव वर्मा पुत्र हरिबाबू वर्मा उम्र 36 वर्ष निवासी लक्ष्मी गंज को पकड़ा। आरपीएफ ने यहां से 74 ई-टिकट पूर्व यात्रा के बरामद किए हंै। इसी के साथ थाटीपुर स्थित शिवम सायबर कैफे में छापामार कर संचालक रवि गुप्ता पुत्र महेश गुप्ता उम्र 38 वर्ष निवासी जीवाजी नगर के यहां से 251 पूर्व यात्रा व आगामी यात्रा के दो टिकट बरामद किए हैं। आरपीएफ के मुताबिक रवि आईआरसीटीसी का एजेंट है, लेकिन उसकी आड़ में वह निजी आईडी से टिकट बना रहा था। सबलगढ़ में आरपीएफ ने बेस्ट वन एमपी ऑनलाइन में छापा मारा। यहां से संचालक असलम खान पुत्र श्री अलीमुद्दीन खान उम्र 28 वर्ष निवासी टेट्रा को गिरफ्तार किया है। यहां से पूर्व यात्रा के 15 ई-टिकट बरामद किए हैं। इस कार्रवाई में निरीक्षक आनंद पांडेय, सीआईबी के निरीक्षक अवधेश गोस्वामी, सहायक उपनिरीक्षक आर.पी. मीना शामिल थे। आरपीएफ ने सभी आरोपियों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

ऐसे करते थे फर्जीवाड़ा

-अलग-अलग नाम की आईडी तैयार कर बुक कराते हैं टिकट

-आईआरसीटीसी पर कई नामों से बना लेते हैं फर्जी आईडी

-हाईस्पीड इंटरनेट इस्तेमाल कर बुक कर लेते हैं तत्काल बर्थ

-यात्रियों से बर्थ के नाम पर वसूलते हैं 1000 से 1500 रुपए

इनका कहना है

टिकटों की दलाली करने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इसके लिए टीमें लगा दी गई हैं। आरक्षण केन्द्रों पर भी आरपीएफ के जवान निगरानी बनाए हुए हैं। जहां भी गड़बड़ी मिलेगी वहां कार्रवाई की जाएगी।

-आनंद स्वरूप पांडे

आरपीएफ निरीक्षक

Updated : 5 March 2020 7:29 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top