Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > भाजयुमो नेता पर पार्षद पुत्र ने गोली चलाई

भाजयुमो नेता पर पार्षद पुत्र ने गोली चलाई

भाजयुमो नेता पर पार्षद पुत्र ने गोली चलाई

बाल-बाल बचे, हत्या के प्रयास का मामला दर्ज

ग्वालियर, न.सं.

गोले का मंदिर थाना क्षेत्र में पार्षद पुत्र द्वारा चुनावी रंजिश के चलते भारतीय जनता युवा मोर्चा के नेता पर गोली चलाने का मामला प्रकाश में आया है। हालांकि इस हमले में वह बाल-बाल बच गए। पुलिस ने फरियादी भाजयुमो नेता की शिकायत पर आरोपी पार्षद पुत्र सहित तीन आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है।

भारतीय जनता युवा मोर्चा भगत सिंह मंडल के अध्यक्ष ज्ञानेन्द्र सिंह पुत्र दरोगा सिंह भदौरिया निवासी कुंज विहार कॉलोनी ने पुलिस को बताया कि वह बीते एक मार्च की रात साढ़े नौ बजे के लगभग वाहन से अपने घर की ओर मुड़े तो अचानक एक गोली चली, जिसकी आवाज सुनकर उन्हें लगा कि गाड़ी का टायर फट गया है, जिसे देखने वह नीचे उतरे तो वहां मौजूद वार्ड क्रमांक 19 के पार्षद बलवीर सिंह तोमर का पुत्र अवधेश उर्फ छोटू तोमर ने 315 बोर के कट्टे से उन्हें जान से मारने की नीयत से गोली चलाई, जो उनके पास से निकल गई। इसी दौरान छोटू के साथ मौजूद पिण्टो पार्क निवासी रवि तोमर ने भी उन्हें निशाना बनाकर कई गोलियां चलाईं। उनके साथ एक अन्य युवक भी मौजूद था। गोलियां चलने की आवाज सुनकर मौके पर क्षेत्रवासी एकत्रित हो गए और उन्होंने लोगों के साथ मिलकर हमलावरों का पीछा करते हुए छोटू के घर तक पहुंचे, जहां उसके पिता बलवीर सिंह तोमर को पूरी बात बताई तो उन्होंने मामला रफा-दफा करने का दबाव बनाते हुए उस समय उन्हें थाने नहीं आने दिया। इस कारण वह आज थाने आए हैं। पुलिस ने फरियादी ज्ञानेन्द्र सिंह की शिकायत पर अवधेश उर्फ छोटू तोमर, रवि तोमर तथा एक अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 307 एवं 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

यह रंजिश चल रही है

फरियादी ज्ञानेन्द्र सिंह ने बताया कि अवधेश उर्फ छोटू तोमर चुनाव के समय से मुझसे रंजिश रखने लगा है। फरियादी के अनुसार छोटू क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर है, जिसने विगत दिनों सरकारी जमीन पर कब्जा करने के लिए नारायण विहार कॉलोनी निवासी सौदान सिंह तोमर के परिवार पर जान से मारने की नीयत से जमकर गोलीबारी की थी, जिसका वीडियो वायरल होने पर छोटू तोमर तथा उसके साथियों पर धारा 307 के तहत मामला दर्ज हुआ है। इससे पहले दीनदयाल नगर निवासी उमेश कुशवाह से अवैध वसूली एवं धमकाने का मुकदमा भी छोटू पर दर्ज हो चुका है। छोटू को शंका है कि ज्ञानेन्द्र सिंह उन लोगों की मदद कर रहा है। इस कारण वह उनसे रंजिश रखता है।

Updated : 2019-03-04T14:10:44+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top