Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > सेवानिवृत्त हवलदार को कमरे में बंद कर की लूटपाट

सेवानिवृत्त हवलदार को कमरे में बंद कर की लूटपाट

सेवानिवृत्त हवलदार को कमरे में बंद कर की लूटपाट
X

पत्नी और बेटी पर कट्टा अड़ाकर बनाया बंधक नगदी व जेवरात लूटकर बदमाश फरार

ग्वालियर, न.सं.

शहर में हाईअलर्ट के बाद भी हो रहीं ताबड़तोड़ आपराधिक वारदातों ने सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है। बदमाशों ने सेवानिवृत्त हवलदार और उसके बेटे को कमरे में बंद करने के बाद पत्नी व बेटी को बंधक बनाकर कट्टा अड़ा दिया और जेवरात व नगदी सहित दो लाख से ज्यादा का माल लूटकर फरार हो गए। पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण करने के बाद अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

गोले का मंदिर थाना क्षेत्र स्थित न्यू राम विहार कॉलोनी में सेवानिवृत्त हवलदार गजराज सिंह पुत्र गुंजेसिंह कुशवाह रहते हैं। विगत 24 फरवरी की रात को जब गजराज सिंह अपने कमरे में सो रहे थे तभी दबे पांव बदमाश उनके कमरे में घुसे और पर्स, मोबाइल व कार की चाबी लेकर बाहर से कमरे की चटकनी लगाकर दूसरे कमरे में पहुंंच गए। बदमाशों ने जैसे ही कमरे की बिजली जलाई तो रोशनी होते ही गजराज सिंह की पत्नी सुमन और बेटी पूजा की नींद खुल गई। बदमाशों को देखकर वह कुछ प्रतिक्रिया कर पातीं इससे पहले ही एक बदमाश ने कट्टा निकाला और मां-बेटी पर अड़ा दिया। मां-बेटी को बंधक बनाने के बाद बदमाश अलमारी से सोने-चांदी के जेवरात, 35 हजार रुपए, बंदूक के कारतूस सहित दो लाख से ज्यादा का माल समेटकर फरार हो गए। वारदात करने के बाद बदमाश सभी के कमरों के बाहर से गेट बंद कर गए थे। फरियादी ने लूटपाट का संदेह विकास भदौरिया, प्रताप भदौरिया और किशोर नाई पर जताया है। तीनों बदमाशों ने पहले घर की रैकी की थी, उसके बाद वारदात को अंजाम दिया है। रात में हवलदार के घर बदमाशों द्वारा लूटपाट का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और घटना स्थल का निरीक्षण करने के बाद फरियादी की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच-पड़ताल प्रारंभ कर दी है।

तीन दिन बाद दर्ज कराया मामला

गजराज सिंह के घर में बदमाशों ने 24 फरवरी की रात को लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था, जबकि वह थाने में शिकायत दर्ज कराने 28 फरवरी को पहुंचे, इसलिए पुलिस को मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। हालांकि फरियादी ने जिन संदेहियों के नाम बताए हैं। पुलिस ने उनकी कुंडली खंगालना प्रारंभ कर दी है।

किराएदार ने खोले दरवाजे

गजराज सिंह को जब कमरे में बदं होने का पता चला तो उन्होंने भूतल पर रहने वाले किराएदार को फोन करके कमरों के दरवाजे खुलवाए। बदमाश घर के बाहर खड़े टै्रक्टर पर चढक़र खिडक़ी के रास्ते घर में घुसे थे। खिडक़ी की रबड़ कटी हुई है।

आधा घण्टे तक घर में रहे बदमाश

बताया गया है कि तीन बदमाश सेवानिवृत्त हवलदार के घर में एक बजकर दस मिनट पर पहुंचे और आधा घण्टे तक लूटपाट करने के बाद एक बजकर चालीस मिनट पर फरार हो गए। बदमाशों के पास हथियार होने के कारण मां-बेटी दहशत में रहीं।

Updated : 2019-03-02T10:27:30+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top