Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > मेला में 33 दिन में 300 करोड़ का व्यापार, 600 करोड़ की उम्मीद

मेला में 33 दिन में 300 करोड़ का व्यापार, 600 करोड़ की उम्मीद

मेला में 33 दिन में 300 करोड़ का व्यापार, 600 करोड़ की उम्मीद
X

4072 वाहन बिके, 4.34 करोड़ आया राजस्व, चार दिन और बढ़ सकता है मेला

ग्वालियर, न.सं.

ग्वालियर व्यापार मेला में 33 दिनों के भीतर अब तक 250 से 300 करोड़ रुपए का कारोबार सभी सेक्टरों में हो चुका है। यह कारोबार 600 करोड़ रुपए तक जाने की उम्मीद है। मेला में अब तक ऑटोमोबाइल सेक्टर में 4072 वाहन बिक चुके हैं, जिससे सरकार के खाते में चार करोड़ 43 लाख 15 हजार 375 रुपए का राजस्व भी आ चुका है। वहीं ग्वालियर व्यापार मेला का समापन 20 फरवरी को होने जा रहा है, लेकिन व्यापारियों का कहना है कि हम मेला की अवधि को चार दिन और अधिक बढ़वाएंगे। अत: मेला का समापन 24 फरवरी को हो सकता है।

उल्लेखनीय है कि पहले जो मेला 45 दिन का होता था, वह इस बार 51 दिन का है। ग्वालियर व्यापार मेला में वाहनों की खरीद पर रोड टैक्स में 50 प्रतिशत की छूट मिलने से इसमें और अधिक निखार आ गया है। पहले जो कारोबार पूरे मेला में मात्र 150 से 200 करोड़ होता था, वह आज 33 दिन में 300 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच चुका है। मेला समाप्ति के अभी 17 दिन शेष बचे हुए हैं। इसमें भी जबरदस्त कारोबार होने की संभावना है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बार मेला का कारोबार 600 करोड़ रुपए तक पहुंच सकता है।

चार दिन और बढ़ सकता है मेला:- ग्वालियर का व्यापार मेला इस समय अपने पूरे शबाब पर है। इस मेला का समापन 20 फरवरी को होना है। मेला व्यापारियों का कहना है कि 20 फरवरी को बुधवार है। अत: हमें 24 फरवरी का रविवार मिल जाए। इसके बाद मेला का समापन कर दिया जाए। जानकारी के अनुसार अगर मेला का समापन 20 फरवरी को होता है तो मेला की बिजली 22 फरवरी को कटेगी। यदि समापन 24 फरवरी को होता है तो बिजली 26 फरवरी को कटेगी। इसके बाद सैलानियों के लिए सस्ता मेला शुरू हो जाएगा।

रविवार को उमड़ी सैलानियों की भीड़

ग्वालियर व्यापार मेला में रविवार को सैलानियों की जमकर भीड़ उमड़ी। जानकारी के अनुसार रविवार को एक लाख से अधिक सैलानी मेला देखने पहुंचे। रविवार को मेला का हर एक सेक्टर हाउसफुल रहा। इस दिन झूला सेक्टर और शिल्प बाजार में सबसे अधिक भीड़ देखने को मिली।

शहर के बाजार रहे खाली

रविवार को शहर के बाजारों में जमकर भीड़ होती है। हालत यह होती है कि इस दिन बाजार में चलना तक मुश्किल हो जाता है, लेकिन मेला के कारण इस बार के रविवार को शहर के सभी बाजार लगभग खाली रहे। लोगों ने इन बाजारों में जाने की अपेक्षा मेला में जाकर खरीदारी की और मेला का आनंद उठाया।

इनका कहना है

'मेला में अब तक का पूरा कारोबार लगभग 300 करोड़ रुपए हो चुका है। समापन तक यह कारोबार 500 से 600 करोड़ रुपए तक पहुंच सकता है।'

पी.सी. वर्मा

पी.सी. वर्मा सचिव, ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण





Updated : 2019-02-04T20:40:05+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top