Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > बच्चों से बोलीं राज्यपाल, 15 मिनट हर दिन पढ़ें ज्ञानवर्धक पुस्तकें

बच्चों से बोलीं राज्यपाल, 15 मिनट हर दिन पढ़ें ज्ञानवर्धक पुस्तकें

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल पहुंची अड़ूपुरा स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र , बच्चों से किया संवाद , बांटे फल और मिठाइयां

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल शनिवार को एक दिवसीय प्रवास के दौरान शासकीय प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय अड़ूपुरा पहुंची। उन्होंने यहाँ के आदर्श आंगनबाड़ी केंद्र का भी अवलोकन किया। आनंदीबेन ने स्कूली बच्चों से संवाद के दौरान कहा कि आप लोगों को पाठ्यक्रम में शामिल पुस्तकों के साथ-साथ हर दिन कम से कम 15 मिनट किसी ज्ञानवर्धक पुस्तक को पढ़ना चाहिए। इससे कुछ समय के बाद आपको अपने अंदर सुखद परिवर्तन महसूस होंगे। उन्होंने बच्चों से जब पूछा कि क्या आप ऐसा करोगे तो बच्चों ने हाथ उठाकर संकल्प लेकर जोर से कहा जी जरूर करेंगे। राज्यपाल ने इस अवसर पर स्कूली बच्चों और आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चों को फल और टॉफियां बांटीं और उनसे उनकी पढ़ाई के बारे में जानकारी ली।

अड़ूपुरा स्कूल भ्रमण के दौरान राज्यपाल आनंदीबेन ने डिजिटल क्लासरूम और कंप्यूटर क्लास का भी अवलोकन किया। डिजिटल क्लासरूम की स्थापना मुस्कान फाउंडेशन और कंप्यूटर क्लास की स्थापना आईटीएम विश्वविद्यालय के सहयोग से की गई है। श्रीमती आनंदीबेन ने अभिभावकों से कहा कि वे भी बच्चों की नियमित पढ़ाई पर ध्यान दें और उनका होमवर्क भी पूरा कराएं। उन्होंने कहा कि गाँव के स्कूलों में भी अच्छी शिक्षा दी जा सकती है। कई महान विभूतियाँ गाँव के स्कूलों से पढ़कर निकली हैं और उन्होंने देश का नाम रोशन किया है। राज्यपाल ने कहा कि ये समाज की भी जिम्मेदारी है कि कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित नहीं रहे जिससे समृद्ध और वैभवशाली भारत का निर्माण हो।

उल्लेखनीय है कि बीते फरवरी महीने में जब राज्यपाल आनंदीबेन अड़ूपुरा गईं थी तो उन्होंने ग्रामीणों से कहा था कि वे आठवीं पास करने वाली बच्चियों को नौवीं में एडमिशन अवश्य दिलवाएं। और आज जब उन्हें भ्रमण के दौरान ये बताया गया कि गाँव की आठवीं पास करने वाली बच्चियों की पढ़ाई जारी है और उन्होंने नौवीं में एडमिशन ले लिया है, तो उन्होंने बहुत प्रसन्नता जताई।

राज्यपाल के भ्रमण के दौरान अपर आयुक्त आबकारी शिवराज वर्मा, अपर कलेक्टर संदीप केरकेट्टा, संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग श्रीमती सीमा शर्मा, डिप्टी कलेक्टर प्रदीप कुमार शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग राजीव सिंह और जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र विजय दीक्षित संहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Updated : 2018-11-25T00:33:29+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top