Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > क्या छुट्टी वाले दिन नहीं बिक सकता मिलावटी मावा ? दो दिन जांच कर खाद्य विभाग ने निभाई औपचारिकता

क्या छुट्टी वाले दिन नहीं बिक सकता मिलावटी मावा ? दो दिन जांच कर खाद्य विभाग ने निभाई औपचारिकता

दशहरे के एक दिन पहले शुरू किया अभियान, लगातार जारी रखने की कही थी बात

क्या छुट्टी वाले दिन नहीं बिक सकता मिलावटी मावा ?  दो दिन जांच कर खाद्य विभाग ने निभाई औपचारिकता
X

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। त्यौहार पास आते ही जिला प्रशासन को शहर के लोगों की चिंता सताने लगती है। और वे मिलावटी खाद्य पदार्थो के विरुद्ध कार्रवाई शुरू कर देते हैं। उनके निशाने पर रहते हैं मिठाई और मावा विक्रेता। इस बार भी जिला प्रशासन को चिंता हुई और दशहरे के एक दिन पहले उसने खाद्य विभाग की टीम के साथ कार्रवाई शुरू भी की लेकिन दो दिन कार्रवाई कर औपचारिकता निभाकर शांत बैठ गया।

जिला प्रशासन और खाद्य विभाग की टीम ने दशहरे से एक दिन पहले 18 अक्टूबर को अचानक मिलावटी और अमानक मावा और मिठाइयों के विरुद्ध छापामार कार्रवाई शुरू कर दी । पहले दिन केवल 7 व्यापारियों के यहाँ से मावे के सेम्पल लिए और जांच के लिए भोपाल लैब भेज दिए। दूसरे दिन 19 अक्टूबर को टीम फिर निकली और शहर में अलग अलग जगह मिठाई विक्रेताओं के यहाँ कार्रवाई की। यहाँ कहीं उन्हें खराब मिठाई मिली तो कहीं दुकानदार बूंदी जलेबी में खाने के रंग की जगह कपडे रंगने वाला रंग बनाता मिला। विभागीय अधिकारियों इसके बाद कहा कि कार्रवाई लगातार जारी रहेगी।

लेकिन दो दिन चलने के बाद शनिवार को कार्रवाई नहीं की गई। खाद्य सुरक्षा अधिकारी रवि शिवहरे ने स्वदेश को शनिवार को कहा आज कहीं कार्रवाई नहीं हुई। कल रविवार है । उन्होंने कहा कि सोमवार को कार्रवाई हो सकती है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी की बात से स्पष्ट है कि छुट्टी वाले दिन व्यापारी अमानक या मिलावटी खाद्य पदार्थ बेच सकता है जिला प्रशासन उसके विरुद्ध केवल वर्किंग डेज में ही कार्रवाई करेगा। कुल मिलाकर जिला प्रशासन और खाद्य विभाग की ये कार्रवाई कई तरह के संदेहों को जन्म दे रही है ।

Updated : 2018-10-22T00:06:28+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top