Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर, कैसे पूरा होगा मोदी जी का सपना

जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर, कैसे पूरा होगा मोदी जी का सपना

जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर, कैसे पूरा होगा मोदी जी का सपना
X

ग्वालियर। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिस स्वच्छ भारत का सपना देखा है, वह शायद पूरा नहीं हो पाएगा। सफाई के लिए झाडू तो सब उठा रहे हैं, लेकिन यह सब दिखावे मात्र को किया जा रहा है।

सफाई के नाम पर महज औपचारिकता निभाई जा रही है। अभियान को चले एक सप्ताह से भी ज्यादा हो चुका है, लेकिन उसके बाद भी नगर में जगह-जगह गंदगी व कूड़े-कचरे के ढेर लगे हुए हैं। सफाई क्यों नहीं की जा रही, कूड़ा व गंदगी क्यों नहीं उठाई जा रही, इसका जवाब न तो नगर निगम अधिकारियों के पास है और न ही प्रशासनिक अधिकारियों के पास। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के उपलक्ष्य में स्वच्छ भारत-स्वस्थ भारत का अभियान चलाया था। उनका मानना था कि जब देश में स्वच्छता रहेगी, तो हम सब खुद ही स्वस्थ हो जाएंगे। पूरे देश में सफाई अभियान चलाया जा रहा है। ग्वालियर में भी इस अभियान में सामाजिक, राजनैतिक, शिक्षक व प्रशासनिक अधिकारी भागीदार बने। उन्होंने जगह-जगह झाडू लगाई, लेकिन उसके बाद भी स्थिति जस की तस है। नगर में जगह-जगह लगे गंदगी व कूड़े-कचरे के ढेर इसके गवाह बने हुए हैं। तो फिर ऐसे सफाई अभियान का क्या फायदा। शहर के खटीक मोहल्ला, सिटी सेंटर, मुरार, सदर बाजार, बजाज खाना, हजीरा के निकट पड़ी गंदगी तो सिर्फ उदाहरण मात्र हैं। इसके अलावा न जाने कितने स्थान ऐसे हैं, जहां पर सफाई के लिए न तो राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता पहुंचे और न ही कोई सामाजिक संगठन।

डब्ल्यूएचओ की रोकी वेतनवृद्वि

नोडल स्वास्थ्य अधिकारी सतपाल सिंह चौहान ने मंगलवार को क्षेत्र क्र.नौ व वार्ड क्र. 26 के कंपनी बाग रोड, बजाज खाना, रिसाला बाजार आदि ब्लॉकों में निरीक्षण किया। जिसमें 40 कर्मचारियों में से पांच सफाई संरक्षक अनुपस्थित पाए गए। निरीक्षण के दौरान मौके पर डब्ल्यूएचओ राजकुमार चौहान को बुलाकर जगह-जगह कचरे के ढेर लगे व नालियों को ब्लॉक पाई जाने पर डब्लूएचओ को कार्य में लापरवाही एवं कर्मचारियों पर नियंत्रण न होने के कारण दो वेतन वृद्धि रोके जाने के निर्देश दिए गए।

सड़कों पर फैला कचरा, नहीं दे रहा कोई ध्यान

नोडल स्वास्थ्य अधिकारी सतपाल सिंह चौहान इन दिनों शहर के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण कर रहे हैं। लेकिन उसके बाद भी नालियों में कचरा जमा है। साथ ही शहर के सार्वजनिक शौचालयों की हालत भी किसी से छिपी नहीं है। वहीं नगर के नाले व नालियां पूरी तरह गंदगी व कूड़े-करकट से अटे पड़े हैं।

इनका कहना है

नगर निगम के अधिकारियों की शहर में मनमर्जी चल रही है, शहर में कहीं भी कचरा समय पर नहीं उठ रहा है। जिसके चलते कचरा अब सड़कों पर फैल रहा है। निगमायुक्त को इस ओर ध्यान देने के साथ साथ जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई भी करनी चाहिए।

कृष्णराव दीक्षित

नेता प्रतिपक्ष

Updated : 2018-10-31T18:05:46+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top