Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > जब ब्लॉक कार्यकारी अध्यक्ष ने सुनाई खरी-खोटी

जब ब्लॉक कार्यकारी अध्यक्ष ने सुनाई खरी-खोटी

जब ब्लॉक कार्यकारी अध्यक्ष ने सुनाई खरी-खोटी

ग्वालियर/वेब डेस्क। चौदह दिसम्बर को दिल्ली में आयोजित भारत बचाओ रैली में भीड़ जुटाने के लिए शहर जिला कांग्रेस द्वारा बुधवार को बुलाई गई ब्लॉक कमेटी की एक बैठक में उस समय हंगामा हो गया जब ब्लॉक क्रमांक एक के कार्यकारी अध्यक्ष आसिफ खान ने यह कहकर जिला पर्यवेक्षक धीरज गावा और जिला अध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा को यह सुना दिया कि हमने कार्यकर्ताओं के साथ मेहनत करके प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनवाई किन्तु अब हमारे निजी तो छोडि़ए आम जनता के मूलभूत काम तक नहीं हो पा रहे हैं, ऐसे में हम जनता के पास किस मुंह से जाएं। उन्होंने कहा कि जिन वार्डों में हमारी हार हुई थी, वहां जानबूझकर काम कराए जा रहे हैं। अब 14 दिसम्बर के लिए भीड़ जुटाना आसान नहीं है। इसके लिए बड़े नेताओं को सोचना होगा।

यहां बता देें कि पिछले नगर निगम चुनावों में इन्हीं आसिफ खान को जब वार्ड क्रमांक 1 से पार्षद का टिकट नहीं मिला था तब वे कांग्रेस के अधिकृत उम्मीदवार एवं मौजूदा ब्लॉक क्रमांक एक के अध्यक्ष सत्येन्द्र शर्मा के खिलाफ बागी होकर चुनाव मैदान में कूंद गए थे, जिसका परिणाम यह हुआ कि पार्षद का चुनाव निर्दलीय जगत सिंह कौरव जीत गए। बाद में आसिफ खान की न सिर्फ कांग्रेस में वापिसी हो गई बल्कि वे अपने प्रतिद्वंदी सतेन्द्र शर्मा के साथ ब्लॉक कार्यकारी अध्यक्ष बना दिए गए। जिसकी शिकायत सतेन्द्र शर्मा ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री तक यह कहकर पहुँचाई कि मंत्री प्रद्युम्न सिंह द्वारा उतारे गए प्रत्याशी को कांग्रेस में वापिस ले लिया गया है। बैठक में पर्यवेक्षक धीरज गावा, शहर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सत्येन्द्र शर्मा, आसिफ खान, रामप्रसाद धनोलिया, पवन मिश्रा, ब्रजमोहन प्रजापति, भानू दीक्षित, सौरभ तिवारी, हामिद हुसैन, राजेन्द्र माहौर, नरेश माथुर, सलमान खान, विजय पडसेरिया, मनोज शर्मा आदि उपस्थित थे।

Updated : 5 Dec 2019 11:08 AM GMT
Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top